समाचारगंगा के तटों पर जबरदस्त हो रहा है अवैध निर्माण

गंगा के तटों पर जबरदस्त हो रहा है अवैध निर्माण


मिर्जापुर गंगा नदी के तटों पर अवैध रूप से पक्के निर्माण जबरदस्त तरीके से हो रहे हैं। नियमावली के अनुसार गंगा तट से 200 मीटर का निर्माण अवैध माना जाता है ।शासनादेश जारी होने के पश्चात भी अवैध निर्माण तेजी से हो रहा है ।मिर्जापुर जिला का एक किनारा गंगा के किनारे बसा है और निरंतर गंगा के करार के कटान के चलते किनारे बने पुराने मकान गंगा नदी में समाने का डर सता रहा है तो वही अभी भी कुछ लोगों के द्वारा अवैध रूप से मकान बनाने का सिलसिला बदस्तूर जारी है ।कोतवाली कटरा थाना क्षेत्र में पड़ने वाले रुखड़ घाट में कृषि कार्य हेतु जमीन रजिस्टर्ड खरीद बिक्री करके उस पर तेजी से भवनों का निर्माण कराया जा रहा है ।विक्रेताओं ने अपनी जमीन को कौड़ियों के दाम बेचना शुरू कर दिया जब उनको पता चला कि गंगा के किनारे भवन निर्माण नहीं कराया जा सकता और ना ही नक्शा पास होगा तो ऐसे में तमाम जमींदारों ने अपनी जमीन को कौड़ियों के दाम बेच दिया ,लेकिन कौड़ियों के दाम खरीददारों ने नियम कानून को ताक पर रखते हुए जमीन कृषि उपयोगिता के लिए रजिस्ट्री तो करा ली उसके बाद उस पर भवन निर्माण शुरू कर दिया ।स्थानीय लोगों की मानें तो ऐसे लोगों के ऊपर कोई कार्यवाही नहीं होती है जिसके चलते तमाम ईमानदारी से काम करने वालों के लिए दुविधा की स्थिति उत्पन्न हो जाती है ।स्थानीय लोगों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि रुखड़घाट पर अवैध रूप से निर्माण किया जा रहा है साथ में ऐसे कई घाट हैं जिनके आसपास अवैध रूप से निर्माण अभी भी कराया जा रहा है समय रहते विंध्य विकास प्राधिकरण की कार्रवाई जनपद वासियों को अपेक्षित प्रतीत होती है।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं