समाचारडैफोडिल स्कूल में निशुल्क प्रतियोगी परीक्षाओं का किया गया व्याख्यान

डैफोडिल स्कूल में निशुल्क प्रतियोगी परीक्षाओं का किया गया व्याख्यान


गरीब, आर्थिक रूप से वंचित होनहार युवाओ के लिये अभ्युदय योजना साबित होगा वरदान- एल0 वेंकटेश्वर लू

सेनानी करो प्रयाण अभय, भावी इतिहास तुम्हारा है, ये नखत अमा के बुझते है सारा आकाश तुम्हारा है-मण्डलायुक्त

मीरजापुर, 19 नवम्बर 2021- गरीब एवं आर्थिक रूप से वचिंत होनहार छात्र/छात्राओ के लिये उ0प्र0लो0से0आ0, नीट, जे0ई0ई0 सहित अन्य परीक्षाओ की तैयारी के लिये प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के द्वारा ’’अभ्युदय योजना’’ निशुल्क कोचिंग संचालित किया गया हैं। जिससे आर्थिक कारणो एवं अन्य सुविधाओ से वंचित होनहार छात्र/छात्रायें अपने प्रतिभा को निखार नही पा रहे थें उनके लिये यह अभ्युदय योजना वरदान साबित हो रहा हैं। उक्त विचार महानिदेशक उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी लखनऊ एल0 वेंकेटश्वर लू ने आज लोहिया तालाब स्थित डेफोडिल स्कूल के सभागार में अभ्युदय योजना के अन्तर्गत प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी के लिये आयोजित कार्यशाला में उपस्थित अभ्युदय योजना में पढ़ रहे छात्र/छात्राओ सहित उपस्थित अन्य लोगो सम्बोधित करते हुये व्यक्त किया। जिला समाज कल्याण कार्यालय द्वारा आयोजित उक्त कार्यशाला में महानिदेशक वेंकटेश्वर लू ने कहा कि आर्थिक सुविधाओ से वंचित छात्र/छात्राओ को अभ्युदय योजना में पढ़ाने वाले वरिष्ठ आई0ए0एस0/पी0सी0एस0 एवं अन्य अध्यापको के द्वारा छात्र/छात्राओ को प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी निशुल्क कोचिंग दी जा रही हैं। सभी गुरूजन का यह दायित्व एवं कतव्र्य है कि इन छात्रो के अन्दर छिपी प्रतिभा को निकालने के लिये मार्गदर्शन दें। उन्होने कहा कि इस पुनीत कार्य में समाज के सभ्ीा लोगो को अपना सहयोग प्रदान करना चाहिये। शिक्षक, अधिकारी एवं सेवानिवृत्त अधिकारी इन बच्चो के साथ अपना अनुभव साझा करें ताकि इन्हें आगे बढ़ने में मद्द मिल सकें। उन्होने कहा कि इस कार्य को निस्वार्थ भाव से करने की आवश्यकता हैं। हर गरीब का बच्चा जो पढ़ना चाहता है उसे आगे बढ़ने का मौका मिले। उन्होने योजना को संचालित करने वाले अधिकारियो को निर्देशित करते हुये कहा कि योग्य शिक्षको को योजना से जोड़ा जाये।
मण्डलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने आगे बढ़ने का मूल मंत्र देते हुये कहा कि किसी भी परीक्षा में सफलता का मूल मंत्र लगातार अभ्यास, सही मार्गदर्शन एवं उसकी लगन एवं मेहनत हैं। उन्होने महान कवि रामधारी सिंह दिनकर कविता का उल्लेख करते हुये कहा ’’सेनानी करो प्रयाण अभय, भावी इतिहास तुम्हारा है, ये नखत अमा के बुझते है सारा आकाश तुम्हारा है’’।
जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने उपस्थित लोगो प्रतियोगिताओ की तैयारी के बारे में बताया कि राज्य सरकार द्वारा गरीब, मध्यम वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर, होनहार ऐसे युवाओ को जो सुविधाओ के अभाव में जहाॅ उनकी इच्छा होती है वहाॅ नही पहुॅच पाते है ऐसे होनहार छात्रो को आगे बढ़ाने एवं प्रतियोगिताओ की तैयारियेा के लिये अभ्युदय योजना लागू किया गया है। उन्होने कहा कि सफलता का कोई सार्टकट रास्ता नही होता इसके लिये समयबद्ध तरीके से तैयारी करने की आवश्यकता है। जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी सफलता को प्राप्त करने के लिये एक लक्ष्य बनाकर उसी पर निगाह रखकर तैयारी की जाये तो निश्चित ही सफलता प्राप्त होगी। इसके लिये समबद्धता आवश्यक है। उन्होने यह भी कहा कि तैयारियो के लिये बहुत मंहगी व अधिक किताबो की आवश्यकता नही है कुछ प्रतियोगी किताबो को लेकर उसे बार-बार पढ़ा जाये तो निश्चित ही सफलता प्राप्त होगी। इस अवसर पर महानिदेशक उपामि वेंकटेश्वर लू एवं मण्डलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र द्वारा अभ्युदय कोचिंग सेंटर से निकलकर प्रतियोगी परीक्षाओ में सफलता प्राप्त करने वाले सुहानी शुक्ला-नीट, हर्षित गुप्ता नीट, सुमित कुमार एव शास्वत तिवारी जे0ई0ई में सफलता प्राप्त करने पर उन्हें प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। मण्डलायुक्त, जिलाधिकारी, उन निदेशक समाज कल्याण, प्रबन्धक डेफोडिल पब्लिक स्कूल अमरजीत सिंह ने महानिदेशक को पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक संजय वर्मा, उप निदेशक समाज कल्याण के0एल0 गुप्ता, जिला समाज कल्याण अधिकारी गिरीश चन्द्र दूबे, अपराजिता सिंह के अलावा अन्य अधिकारी व अध्यापकगण उपस्थित रहें।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं