समाचारदलालों के दलदल में फंसी व्यवस्था - मनोज श्रीवास्तव

दलालों के दलदल में फंसी व्यवस्था – मनोज श्रीवास्तव


बाइस साल का दर्द बयां कर बिफर गए फल सब्जी के आढ़तिया, दलालों के दलदल में फंसी व्यवस्था ।

भ्रमण कर मनोज श्रीवास्तव ने किया निरीक्षण कहा – दस दिन में व्यवस्था को ठीक करने का प्रयास करेंगे।

मीरजापुर ,
करीब 22 वर्ष पूर्व बसाया गया नवीन मंडी समिति जंगी रोड़ आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं । आढ़तियों को लाइसेंस तो दे दिया गया लेकिन अब तक सही स्थान और माहौल ना मिलने से फैली व्यवस्थाओं के कारण उन्हें भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है । रविवार को व्यापारियों के आमंत्रण पर पहुंचे भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य मनोज श्रीवास्तव ने अव्यवस्थाओं को जल्द पटरी पर लाने का आश्वासन दिया । एक तरफ उन्होंने व्यापारिक समस्या सुनी तो तत्काल मंडी समिति के सचिव से टेलीफोनिक वार्ता कर समस्या का समाधान 10 दिन के अंदर तलाशने को कहा । मंडी समिति में पहुंचे मनोज श्रीवास्तव का माल्यार्पण और नारेबाजी कर जोरदार स्वागत किया गया ।

नगर के मुकेरी बाजार, गुड़ हट्टी और घंटाघर में आबादी के बीच पूर्व से संचालित सब्जी और फल के आढ़तियों को अच्छी सुविधा देने का वादा करके 15 नवम्बर 1999 में गल्ला मंडी समिति जंगी रोड ले जाया गया । वहां उन्हें लाइसेंस तो दिया गया लेकिन अब तक नियमानुसार मंडी में व्यवस्था न होने के कारण अतिक्रमणकारियों का बोलबाला है । लाइसेंस धारक को प्लेटफार्म नंबर तीन दिया गया है । जबकि कृषि उपज के लिए प्लेट फार्म नम्बर दो आवंटित किया गया है । जिस पर एक लाइसेंस पर दबंग आठ दस दुकानें लगाकर वसूली कर रहे हैं । सब्जी फल के आढ़तियों को पीछे की तरफ दुकानें दी गई हैं । गैर लाइसेंस धारक मंडी में घुसकर आगे ही अपनी दुकान सजाकर व्यापारियों को चोट पहुंचा रहे हैं । मंडी समिति में परिसर में जल निकासी एवं सफाई की समुचित व्यवस्था न होने कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है । व्यापारियों से की समस्याओं को सुनने के बाद भाजपा नेता मनोज श्रीवास्तव ने कहा कि सारी समस्याओं का समाधान जल्द होगा । जिसमें अगर लापरवाही की गई तो मामला लखनऊ तक जाएगा ।
आठ से लेकर 12 लाख रुपए देकर दुकान आवंटित कराने वाले लाइसेंसी आढ़तियों ने कहा कि अगर मंडी समिति प्रशासन उन्हें व्यापार करने के लिए उचित व्यवस्था नहीं दे सकता तो उनके जमा करोड़ों रूपए वापस कर दे । जब दो वक्त की रोटी की व्यवस्था दुकान से नहीं हो पाएगी तो ऐसे में दुकान लेने से फायदा ही क्या है । चर्चा है कि बगैर लाइसेंस के सैकड़ों दुकानें आगे लगवाकर सरकार को भी राजस्व की क्षति पहुंचाई जा रही हैं । मनोज श्रीवास्तव ने मंडी का भ्रमण कर निरीक्षण किया ।
इस दौरान दीपक सोनकर, राजू सोनकर, अप्पू मोदनवाल, राम साहू, डंगर सोनकर, पप्पू सोनकर, ज्वाला सोनकर,प्रमोद उर्फ गोपाल सोनकर, जेपी सोनकर तथा बबलू यादव आदि मौजूद थे ।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं