समाचारअपना ज़िलाजिलाधिकारी के कड़े तेवर ,पीडब्ल्यूडी के अधिशासी अभियंता को नोटिस जारी

जिलाधिकारी के कड़े तेवर ,पीडब्ल्यूडी के अधिशासी अभियंता को नोटिस जारी


अधिकारियो के साथ बैठक कर लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति की गयी समीक्षा

सहायक अभियन्ता लोक निर्माण विभाग को सही जानकारी दे पाने पर शो कार्य-नोटिस

मीरजापुर 08 दिसम्बर 2021- जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में कर-करेत्तर, मुख्य देय व राजस्व वसूली की समीक्षा सभी उप जिलाधिकारी व सम्बन्धित अधिकारियो के साथ बैठक कर की। समीक्षा बैठक में अनुपस्थित रहने पर अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण व प्रान्तीय खण्ड को शो कार्य-नोटिस देने तथा सहायक अभियन्ता लोक निर्माण विभाग को सही जानकारी दे पाने पर शो कार्य-नोटिस देने का निर्देश अपर जिला मजिस्ट्रेट वि0/रा0 को दिया। कर-करेत्तर की समीक्षा के दौरान भू-राजस्व लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति कम होने पर जिलाधिकारी ने सभी तहसीलो के तहसीलदारो को डिमांड के सापेक्ष वसूली का लक्ष्य पूरा करने का निर्देश दिया। स्टाम्प एवं पंजीयन, विद्युत, की वसूली की प्रगति संतोषजनक बताते हुये शत प्रतिशत करने का निर्देश दिया गया तथा वन विभाग, वाणिज्य कर की वसूली कम पाये जाने पर नाराजगी प्रकट की गयी। आबकारी विभाग के 94.69 प्रतिशत, परिवहन 99.38 प्रतिशत, नगर पालिका मीरजापुर 98 प्रतिशत, खनिज 92 प्रतिशत, बाटमाप 74 प्रतिशत की वसूली को प्रतिशत करने का निर्देश दिया गया। बिजली विभाग की समीक्षा के दौरान बिजली चोरी रोकने तथा ओ0टी0एस0 प्रणाली को लक्ष्य के सापेक्ष पूरा करने का निर्देश दिया गया। चकबन्दी के प्रगति खराब पाये जाने तथा चकबन्दी अधिकारियो के द्वारा कार्य प्रणाली में शिकायत मिलने पर जिलाधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी को निर्देशित किया कि चकबन्दी अधिकारी व सहायक चकबन्दी अधिकारियो को कार्यशैली में सुधार लाने हेतु निर्देशित करे तथा चकबन्दी कार्य को पूरी पारदर्शिता के साथ निस्तारित कराने हेतु निर्देशित करें। उन्होने कहा कि आगे से शिकायत पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। मुख्य देय की वसूली में तहसील सदर की वसूली प्रगति को बढ़ाने का निर्देश दिया गया। यह भी निर्देशित किया गया कि सभी उप जिला मजिस्ट्रेट व तहसीलदार अपने-अपने क्षेत्र के सबसे खराब वसूली करने वाले 03 कम से कम 03-03 अमीनो के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही भी करे। उन्होने यह भी कहा कि सभी उपजिलाधिकारी भी बड़े बकायेदारो के घरो पर जाकर उनसे वसूली कराना सुनिश्चित कराये। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि विभिन्न स्तरो से प्राप्त आर0सी0 वसूली में जो मृतक हो गये है ऐसे लोगो के आर0सी0 सम्बन्धित को वापस कर दें। 10 बड़े बकायेदारो के विरूद्ध कार्यवाही करने का भी निर्देश दिया गया। सिविल कोर्ट से प्राप्त वसूली के मामले को भी प्राथमिकता पर पूरा करने का निर्देश दिया गया। वादो के निस्तारण की समीक्षा के दौरान तहसील चुनार के तहसीलदार अरूण गिरी के द्वारा 05 वर्ष से पुराने 35 वादो के निस्तारण पर जिलाधिकारी द्वारा प्रशंसा करते हुये सभी तहसीलदारो को भी अधिक से अधिक वाद निस्तारण के निर्देश दिये। बैठक में प्रत्येक मजिस्ट्रेटवार कोर्टवार वादो का निस्तारण की समीक्षा, सेवानिवृत्त कर्ममियो के लम्बित पेंशन प्रकरण, विभागीय कार्यवाही के सापेक्ष निस्तारण, खतौनी का पुनरीक्षण लम्बित संदर्भ, चरित्र प्रमाण पत्र सत्यापन, कृषि आवंटन, मत्स्य पालन, आवास आंवटन, आडिट आपत्ति, वरासत आदि मामलो की बिन्दुवार समीक्षा करते हुये जिलाधिकारी ने अधिक से अधिक निस्तारण करने का निर्देश दिया। बैठक में अपर जिलाधिकारी वि0/रा0  शिव प्रताप शुक्ल, नगर मजिस्ट्रेट श्री विनय कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी चुनार  नीरज सिंह पटेल, मड़िहान  सिद्धार्थ यादव, लालगंज  विजय नरायन सिंह सहित सभी तहसीलदार एवं सम्बन्धित विभागो के अधिकारी उपस्थित रहें।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं