भारत मिशन तथा गंगा एक्शन प्लान में व्यय की गयी धनराशि-MIRZAPUR

जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेंट कमेटी की बैठक सम्पन्न
दिनांक 02 फरवरी ,2017
मीरजापुर-जिलाधिकारी कंचन वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्वच्छ भारत मिशन तथा गंगा एक्शन प्लान में व्यय की गयी धनराशि तथा एक फरवरी 2017 उपलब्ध अवशेष धनराशि के विवरण तथा आगे के कार्य कराये जाने हेतु स्वीकृति के लिये बैठक आहुत की गयी। बैठक में जनपद स्तर पर वित्तीय वर्ष 2016-17 में अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष स्वीकृति की गयी समस्त कार्यो एवं धनराशियों तथा कराये जाने वाले समस्त कार्यो एवं धनराशियों की वित्तीय एवं प्रशासनिक स्वीकृति हेतु प्रस्ताव जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेन्ट के समक्ष प्रस्तुत किया गया तथा 25 नवम्बर 2016 के बाद अन्य कराये जाने वाले कार्य का विवरण कमेटी के समक्ष रखा गया। बैठक में जिला पंचायत राज अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि वित्तीय वर्ष 2016-17 में स्वच्छ भारत मिशन एवं गंगा एक्शन प्लान के अन्तर्गत 25872 शौचालयों की धनराशि अवमुक्त की जा चुकी है। जिनका व्यय 3104.64 लाख शौचालय मद में शौचालय निर्माण हेतु अवमुक्त कर निर्माण कराया जा रहा है। जिसका विवरण कमेटी के समक्ष प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृति हेतु रखा गया। इसीप्रकार स्नानगृह निर्माण मद में कुल 1855 व्यक्तिगत स्नानगृह निर्माण हेतु 319.93 लाख की धनराशि प्राप्त है जिसके सापेक्ष 1355 व्यक्तिगत स्नानगृहो के स्नानगृहो के निर्माण हेतु 233.696 लाख की धनराशि ग्राम पंचायतो को अवमुक्तकर स्नानगृह का निर्माण कराया जा रहा है जिसको कमेटी द्वारा सर्वसम्मती से पारीत किया गया। इस पर मुख्य विकास अधिकारी अमित कुमार सिंह ने कहा कि जिला पंचायत राज अधिकारी अपने कार्यालय के अन्दर व बाहर बने शौचालयों का मरम्मत कराकर सुन्दरीकरण कराये,इन शौचायलो की स्थिति अत्यन्त दैनिय है।
बैठक में जनपद स्तर पर तीन कन्सलटेन्ट, दो कम्प्यूटर आपरेटर, लेखाकार एवं विकास खण्डों में कार्यरत 24 खण्ड पे्ररको, 12 कम्प्यूटर आपरेटर/ डाटा आपरेटर के मानदेय प्रचार प्रसार एवं शिक्षण प्रशिक्षण मद की स्वीकृति हेतु कमेटी के समक्ष प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया। जिसे सर्वसम्मती से स्वीकृति प्रदान की गयी।
जिलाधिकारी ने कहा कि उपरोक्त मदो में व्यय के उपरान्त उपयोगिता प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के बाद ही विकास खण्डो में धनराशि भेजी जाये। उन्होने कहा कि जनपद को खुले मे शौच से मुक्त बनाने के लिए नुक्कड़ नाटक, लोक संगीत, लोकगीत, कटपुतली, जादू, व अन्य सास्कृतिक दलों से वृहद प्रचार-प्रसार कराया जाये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित कुमार सिंह, संयुक्त मजिस्ट्रेट राजेन्द्र पैंसिया, उप निदेशक जिला पंचायत ए0के0शाही,जिला पंचायत राज अधिकारी बलेशधर द्विवेदी, अपर जिला सूचना अधिकारी ओम प्रकाश उपाध्याय, जिला समाज कल्याण अधिकारी महेन्द्र यादव, जिला कार्यक्रम अधिकारी गुरमीत गुप्ता, बेसिक शिक्षा अधिकारी के अलावा अन्य समिति के सदस्य उपस्थित थे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.