सभी दलो में दलदल है निर्दल सबसे उज्वल है ये कहना है मिर्ज़ापुर नगर विधान सभा से चुनाव लड़ रहे अमरेश सोनकर का |अमरेश सोनकर का मानना है की जनता अब राजनितिक दलो के खरीद फरोख्त व दल बदल की राजनीती से ऊब गयी है| जनता स्वतन्त्र है वो किसी दल को ही वोट करे ये उसकी विवशता नहीं हो सकती |तंमाम राजनितिक दल ये सोचते है की भोली भाली जनता बीजेपी को या बसपा को या सपा को ही वोट करेगी अगर मिला जुला वोटिंग होता है तो इन दलो के बड़े नेता सरकार बनाने के लिए सब तुरंत गठबंधन कर के सरकार बनाने के लिए एक हो जायेगे और जनता का दिया वोट आखिर कार जाकर गंभीर राजनीती का शिकार हो जाता है इसलिए निर्दल को चुने निर्दल राजनेता नहीं जनसेवक के रूप में अमरेश सोनकर विकल्प के रूप में मौजूद है |अमरेश सोनकर ने बताया की हमें मौका मिलता है तो यहा की समस्या को प्राथमिकता के तौर पर निपटाते हुए नगर का चहुमुखी विकास कराया जाएगा |