विधायक को आज संत भाव में व धर्मगुरु के रूप में लोगों ने देखा-MIRZAPUR

मिर्जापुर नगर विधानसभा क्षेत्र के विधायक रत्नाकर मिश्रा को आज संत भाव में व धर्मगुरु के रूप में लोगों ने उनको देखा| आज अपनी कार्यशैली व कार्यपद्धती से लोगों को यह बताने का प्रयास किया की व्यक्ति की पहचान उसके कर्म से व धर्म से भी है| जिस तरीके से कल अस्पताल का निरीक्छण किया व आज गंगा नदी से जल भरकर विंध्याचल मंदिर मैं जाते हुए लोगों ने देखा एक जनप्रतिनिधि का यह दृश्य देख तमाम लोगों के मन में अपने विधायक के प्रति विश्वास और आस्था का अटूट अलख जागते हुए देखा गया |जब रत्नाकर मिश्रा सफेद वस्त्र में एक हाथ से कंधे पर टिकाये मिटी के पात्र में सर्वत्र शुद्ध व विश्व में पवित्र जल माना जाने वाला गंगाजल लिए हुए थे, तो वही दूसरे हाथ का लोगों के अभिवादन मैं प्रयोग किया जा रहा था,व उनके चरण विंधवासनी धाम की ओर अग्रसित था ,ह्रदय अपार पवित्र भाव से लबालब लबरेज प्रतीत हो रहा था |ऐसा लग रहा था जैसे कोई विंध्यवासनी देवी का असीम भक्त की आज सारी मिनंते पूरी हो गयी हो |योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री पद पर आसीन हुए तो लोगों की मानसिकता और विचारधारा में बहुत परिवर्तन आया कमोबेश वही हाव भाव और कार्यशैली मिर्जापुर के नगर विधायक की देखने के पश्चात लोगों में चर्चा बना हुआ है आज विंध्याचल में पुरानी मान्यताओं के मुताबिक प्रथा के सापेक्ष मंदिर के शुद्धिकरण के कार्यक्रम किया गया |
मां विंध्यवासिनी मंदिर का महा घटा अभिषेक जिसके लिए जगह जगह विंध्याचल में सज चुकी है मिट्टी के घड़ों की दुकानें इस मिट्टी के घड़ों से स्थानीय नागरिकों के साथ दर्शनार्थी भी बहुत बड़ी संख्या में कतारबद्ध तरीके से गंगा स्नान कर घड़े में गंगाजल लेकर पूरे मंदिर प्रांगण के देवी देवताओं का अभिषेक करते देखे गए|

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.