कई विभागों की ,ली जमकर क्लास — जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे

मण्डलायुक्त ने ग्राम धनावल में चैपाल लगाकर सुनी समस्याएं
दिनांक 25 अपै्रल, 2017
मीरजापुर-आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल रंजन कुमार ने विकास खण्ड राजगढ़ के ग्राम धनावल के प्राथमिक विद्यालय के प्रान्गण में चैपाल लगाकर उपस्थित ग्रामीणों के समस्याओं को सुना तथा गाॅव के हैण्डपम्प,शौचालयों एवं सिचाई व्यवस्था के लिएं बन्धियों के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होने खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि गाॅव में भ्रमण कर सभी खराब हैण्डपम्पों को ठीक कराना सुनिश्चित कराये। ज्ञातव्य है कि शासन के निर्देश के क्रम में मण्डलायुक्त द्वारा चहुॅमुखी विकास के लिए ग्राम धनावल को गोद लिया गया है। उन्होने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि सभी आज ही पूरे गाॅव में भ्रमण कर सभी अधिकारी अपने-अपने विभाग से संबंधित गाॅव को आदर्श गाॅव बनाने के लिए कार्य योजना दो दिन के अन्दर प्रस्तुत करें। मण्डलायुक्त ने चैपाल में उपस्थित बी.एच.यू. के भू-वैज्ञानिक डा0 गुरू प्रसाद से कहा कि उप निदेशक कृषि का सहयोग लेकर पूरे गाॅव के अलग-अलग स्थानों पर मृदा परीक्षण कराये तथा किसानों को यह जानकारी दे कि किस जमीन पर कौन से फसल बोया जा सकता है यह भी कहा कि उप निदेशक कृषि इसी रिपोर्ट के आधार पर फसल ,सब्जी तथा औद्यानिक मिशन के तहत बीज उपलब्ध कराना सुनिश्चित कराये ताकि फसल की उत्पादकता बढ़ायी जा सके। उन्होने यह भी कहा कि अधिकारी अपने-अपने विभाग से संबंधित भारत सरकार तथा प्रदेश के जनोपयोगी योजनाओं के बारे में ग्रामीणों को अवगत कराये। पेयजल समस्या को विकट समस्या बताते हुए अधिशासी अभियन्ता जल निगम को निर्देशित किया कि गाॅव में सर्वे कर सभी खराब हैण्डपम्पों को ठीक कराना सुनिश्चित करें। पठन-पाठन के लिए शिक्षा व्यवस्था में सुधार लाने का निर्देश देते हुए कहा कि विभिन्न कक्षाओं के जो सबसे तेज बच्चे हो उन्हे अच्छी शिक्षा देकर और बच्चों को पढ़ने के लिए प्रेरित करने के लिए प्रशिक्षण दे। इस दौरान मण्डलायुक्त ने कक्षा 6 के बच्चों से शिक्षा व्यवस्था के बारे में जानकारी प्राप्त की तथा क्लास में स्वयं टीचर बनकर विज्ञान तथा गणित के अन्तर्गत त्रिभुज, वृत्त,चर्तुभूज आदि के बारे में क्षेत्रफल निकालने के सूत्र भी बच्चों को बताये।
मण्डलायुक्त ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि गाॅव में सभी पट्टा धारको का कब्जा होना चाहिए तथा खाली जमीन पर पात्र व्यक्तियों का चयन कर पट्टा आवटंन कराये। जल संचयन के लिए भी संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया गया। आयुक्त ने दीन दयाल उपाध्याय योजना,पेशन योजना, प्रधान मंत्री आवास योजना, कौशल विकास मिशन आदि योजनाओं में चयन कर उन्हे लाभान्वित किया जाये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे ने उप निदेशक कृषि से कहा कि ग्रामीणों को वर्मीकम्पोस्ट खाद्य बनाने के लिए प्रशिक्षण दिलाये। उन्होने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि पशुओं का टीकाकरण कराये तथा पशु पालन के बारे में जानकारी दे। इस अवसर मुख्य विकास अधिकारी अमित कुमार सिंह, संयुक्त मजिस्ट्रेट राजेन्द्र पैंसिया,उप जिलाधिकारी मड़िहान, उप निदेश पशुपालन, खण्ड विकास अधिकारी राजगढ़ सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

——————————————————————————————————————-
पेयजल व्यवस्था पर जिलाधिकारी गंभीर
दिनांक 25 अपै्रल, 2017
मीरजापुर-जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे की अध्यक्षता में जनपद में पेयजल व्यवस्था को सुढृढ बनाने के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक आहुत की गयी। उन्होने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि इस भीषण गर्मी में जनपद की सबसे बड़ी समस्या पेयजल उपलब्ध कराना है,परन्तु खेद का विषय है कि अधिकारी इसके प्रति अभी तक गंभीर व सक्रिय नही है। उन्होने कहा कि किसी भी हालत में ग्रामीणों को पेयजल की व्यवस्था मुहैया कराना है,इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्र में सत्यापन कराकर यह सूची बनाये की जनपद के किस-किस गाॅव में पेयजल की समस्या है तथा किस व्यवस्था के तहत कितना पानी प्रतिदिन उपलब्ध कराया जाये कि वहाॅ के लोगों को पानी की समस्या से परेशान न होने पड़े। उन्होने कहा कि ग्रामवार कितने हैण्डपम्प लगाये गये है कितने खराब/रिबोर्र के योग्य है सूची तैयार करें। इसीप्रकार ग्रामवार तालाबों का विवरण तथा उसे भरने के लिए कौन सा नजदीकी साधन है, किस -किस गाॅव में टैन्कर लगाया जाना है रोस्टर बनाये तथा टैन्कर का नम्बर व ड्राइबर का नाम व मोबाइल नम्बर सहित सूची समस्त ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम प्रधान के पास उपलब्ध कराया जाये। उन्होने अधिशासी अभियन्ता जल निगम को निर्देशित करते हुए कहा कि विधान सभा चुनाव 2017 के आदर्श आचार संहिता के पूर्व मा0 विधायकगणों के द्वारा हैण्डपम्प लगाने हेतु दिये गये सूची में कितने हैण्डपम्प लगाये गये अथवा रिबोर्र किये गये तथा अवशेष हैण्डपम्प जो अभी तक लगाया नही जा सका है, उन हैण्डपम्पों को लगाने के लिए वर्तमान में संबंधित विधान सभा के मा0 विधायक से सूची प्राप्त कर हैण्डपम्प लगाना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर अधिशासी अभियन्ता जल निगम ने बताया कि विभिन्न विभागों को मिलाकर वर्तमान में कुल 37 टैंकर उपलब्ध है जिसका मरम्मत कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने इसीप्रकार राजकीय नलकूपों को भी ठीक कराने का निर्देश दिया।
उक्त अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अमित कुमार सिंह,अपर जिलाधिकारी विजय बहादुर, व संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।
(जिला सूचना कार्यालय द्वारा प्रसार
—————————————————————————————————————————
दिनांक 25 अप्रैल,2017
मीरजापुर-जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कर करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने वाणिज्य कर विभाग की समीक्षा की तथा वाणिज्य कर विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे अपने विभाग की वसूली को मानक के अनुरूप वसुलने हेतु व्यापक अभियान चलाये इस कार्य में किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरती जाये। उन्होने विद्युत विभाग के अधिशासी अभियन्ता को निर्देशित किया कि कटिया मारों पर अभियान चलाया जाये और अधिक से अधिक कनेक्शन वितरण करे। उन्होने यह भी कहा कि ग्राम प्रधानों से समन्वय बनाकर ग्राम स्तर पर लोगों को प्रेरित कर कनेक्शन उपलब्ध कराये। उन्होंने परिवहन विभाग की समीक्षा की और परिवहन विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे अभियान चलाकर अपने विभाग की वसूली बढाये। उन्हांेने आबकारी विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे वसूली के कार्य में तेजी लाये तथा आवश्यकतानुसार छापेमारी करें। उक्त अवसर पर आबकारी अधिकारी ने बताया अधिकतर दुकाने बंद चल रहे है, इसलिए वसूली मानके के अनुरूप नही हो पा रहा है। उन्होने जिला आबकारी को निर्देशित किया कि यह भी सुनिश्चित किया जाये की कही भी अवैध शराब न बनने पाये न ही बिकने पाये इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही को गम्भीरता से लिया जायेगा तथा दोषी अधिकारी के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन के लक्ष्य के पूर्ति के लिए विशेष ध्यान दिया जाये।
जिलाधिकारी ने विविध देयों की वसूली की समीक्षा की तथा सम्बन्धित अधिकारियों को लक्ष्य पूर्ति हेतु निर्देशित किया। उन्होने अधिशासी अभियन्ता नगर पालिका को निर्देशित किया कि गृहकर में गंभीरता बरते वसूली में तेजी लाये।
बैठक में अपर जिलाधिकारी विजय बहादुर, उप जिलाधिकारीगण ,जिला आबकारी अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता विद्युत, अधिशासी अभियन्ता पी0डब्ल्यू0डी0, ए0आर0टी0ओ0 सहित संबंधित विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.