कुछ की आंखों में आंसू तक देखने को-MIRZAPUR

मिर्जापुर पुलिस लाइन सभागार कछ मे IPS कलानिधि नैथानी के विदाई समारोह कार्यक्रम में जनपद के सम्मानित संभ्रांत लोगों की मौजूदगी, प्रेस, छायाकार व पुलिसकर्मी की मौजूदगी के साथ-साथ नवागत पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी भी मौजूद रहे | कलानिधि नैथानी का कार्यकाल मिर्जापुर में बहुत कम समय रहा लेकिन जितने समय भी कप्तानी संभाले हुए थे हर दिन हर पल हर क्षण उनकी कप्तानी में ऐसा प्रतीत हो रहा था मानो वह एक दिवसीय क्रिकेट की कप्तानी कर रहे हो हर पल हर क्षण एक नई उपलब्धि और नया कीर्ति स्थापित करने के प्रयास करते दिखे | कम अवधि में कई चुनौतियों का सामना किया चाहे वो यू पी १०० डायल की सेवा हो जो इन्हीं के कार्यकाल में शुरुआत हुआ जो जल्दी ही जनमानस में अपनी साख बना लिया है| साथ ही साथ विधानसभा चुनाव को निर्वाध रुप से संपन्न कराने की चुनौती , विंध्याचल देवी के नवरात्र मेले को सकुशल संपन्न कराना जिसमे सर्वाधिक जेब कतरो को जेल में डालना दर्नार्थीयो से कोई भी वहां स्टैंड पार्किंग के नाम पर अधिक वसूली न करसके इसके लिए समुचित वयवस्था दुरुस्त करना जिसमे सफलता मिलना, कार्य के प्रति लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों को बर्खास्त करने की भी सर्वाधिक कार्यवाही करना चर्चा का विषय रहा |और सबसे बड़ी बात यह रही कि किसी भी घटना को तत्काल मीडिया तक पहुंचाने का जो अद्वितीय कार्यशैली रही काफी सराहनीय रही| कलानिधि नैथानी के कार्यकाल में मीडिया और पुलिस ग्रुप में हर खबर मीडिया कर्मी को आसानी से मिल जाता था | यहां तक कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को भी वीडियो फुटेज उपलब्ध कराने की अनूठी कार्यक्रम की वजह से मीडिया कर्मियों को सहूलियत मिलती थी| कलानिधि नैथानी ने अपने विदाई समारोह के कार्यक्रम में मिर्जापुर जनपद वासियों को व शहर को अच्छा शहर बताया ,और कहा कि यदि हमको भविष्य में डीआईजी बनने के बाद अगर मेरी मनसा पूछा जाएगा कि कौन से जिला चाहिए तो हम पुनः मिर्जापुर को ही चयन करेंगे | वक्ताओं ने इस बात पर सहमति जताई की सारे कामों को हंसते हंसते मुस्कुराते हुए कानून वयवस्था बनाये रखा |मिर्जापुर में फेल हो चुके यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने का भी कलानिधि नैथानी के द्वारा पटरी पर लाने का कोशिश किया गया जिसमें अच्छी सफलता मिलने की चर्चा आज भी लोग करते हैं | साथ ही साथ तमाम ऐसे चौराहो पर जैसे त्रिमुहानी चौराहे का अतिक्रमण भी हटवाने पर पुलिस की अच्छी भूमिका की सराहना आज भी जनमानस में होता नजर आता है| जब कलानिधि नैथानी ने मिर्जापुर का कमान संभाला था लोगों ने उनके स्मार्ट होने की चर्चा की थी वही जाते-जाते उनके काम में भी स्मार्टनेस दिखा पर इस बात पर वक्ताओं द्वारा सहमति बनती नजर आई |कार्य करने की शैली ने तमाम पुलिसकर्मियों को भी स्मार्ट बनने पर मजबूर कर दिया| विदाई समारोह के वक्त उनको माला पहनाकर हाथ मिलाने के लिए लोग लालायित दिखे | उनके साथ जमकर फोटो सेशन भी लोगों ने कराया कुछ की आंखों में आंसू तक देखने को मिला और उनकी आंखों को देख कलानिधि स्वयं थोड़ी देर के लिए भावुक हो गए और उन्होंने यह कहने से गुरेज नहीं कहा कि वाकई में मिर्जापुर के लोग बहुत भाग्यशाली है जो इतने सुंदर और शांत वातावरण में उनको रहने का अवसर मिला क्योंकि कलानिधि नैथानी के नजर में विंध्याचल बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है और साथ ही साथ यहां पर्यटन के अपार संभावना है इसी वजह से उन्होंने विंध्याचल में टूरिस्ट पुलिस का भी गठन किया जो अपने आप में एक नई शुरुआत थी और इस नई शुरुआत की जमकर सराहना हर स्तर पर की जा रही है|मिर्ज़ापुर SP आशीष तिवारी ने कहा की कलानिधि नैथानी मेरे बड़े भाई जैसे है मै इनसे हमेशा सीखता रहूँगा |

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.