जीवन दायिनी है गंगा इसे स्वच्छ रखने में सभी करें सहयोग- जिलाधिकारी बिमल कुमार दूबे

दिनांक 02 मई, ,2017
मीरजापुर( जिलाधिकारी बिमल कुमार दूबे ने जनपदवासियों से अपील करते हुये कहा कि गंगा जीवन दायिनी है इसे स्वच्छ रखने सभी जनपद वासी अपना सहयोग करें। जिलाधिकारी आज नारघाट एवं बरियाघाट पर गंगा सप्तमी एवं गंगा स्व्च्छात संकल्प दिवस के अवसर पर आयोजित गंगा सफाई अभियान में गंगा पूजन करने के बाद उपस्थित नागरिकों को सम्बोधित कर रहे थे। जिलाधिकारी ने कहा गंगा नदी से करोडों लोग वही पानी पीते है। उन्होंने कहा जनपद मीरजापुर एवं अन्य जनपद के लोग जो लोग गंगा के किनारे बसे हुये है ंवे सौभाग्य शाली है। लोग गंगा स्थान करने के लिये दूर-दूर से अपना पैसा व समय व्यय कर आते हैं और पुण्य के भागीदारी बनते हैं उन्होंने कहा कि जो लोग गंगा के किनारे बसे गंगा को स्वच्छ रखने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रहती है। उन्होंने कहा कि गंगा के किनारे नगर पालिका के द्वारा डस्टबिन रखया जाये ताकि लोग पालीथीन, कागज व अन्य कूडा करकट डस्टविन में डाले। जिलाधिकारी ने उपस्थित नागरकिों को गंगा सप्तमी के अवसर पर गंगा को साफ रखने के लिये शपथ दिलाया तथा कहा कि सभी लोग संकल्प ले कि गंगा में कूडा करकट नहीं डालेगें। उन्होंने गंगा नदी में शहर से आने वाले नालों को बन्द किया जायेगा तथा वाटर ट््रीमेन्ट प्लान्ट के माध्यम से गन्दा पानी को फिल्टर किया जायेगा तभी गंगा में छोडा जायेगा। ताकि गंगा का पानी साफ व स्वच्छ रहे। इस दौरान गायत्री संस्था एवं भारत सेवक समाज तथा गंगा सफाई दल के पदाधिकारियों के साथ जिलाधिकारी व अपर जिलाधिकारी ने गंगा के घाटों को साफ किया तथा गंगा नदी के किनारे इकट््ठा सडी-गली पालीथीन व कूडा को हटाया गया।
शासन के निर्देश के क्रम में जिलाधिकारी ने गंगा स्वच्छता संकल्प दिवस को वृहद रूप् से मनाये जाने के लिये सभी गंगा किनारे के ग्रामों में संकल्प दिवस के प्रति जागरूक करने के लिये कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश सभी ग्राम पंचायत अधिकारियों को दिया था। उन्होंने कहा कि गांव में जन समुदाय में स्वच्छता के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिये विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये। इस क्रम में के 68 ग्राम सभाओं में अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाकर कार्यक्रम आयोजित करने के लिये लगाया गया था जो अधिकारी ग्राम पंचायत अधिकारी से सम्पर्क कर स्कूली बच्चों की रैलिया तथा गंगा के किनारे स्वच्छता अभियान चलााया गया।
नरघाट व बरिया घाट पर आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर अपर जिलाधिकारी विजय बहादूर सिंह, सूचना अधिकारी ओम प्रकाश उपाध्याय, ई0ओ0 नगर पालिका संजय कुमार, गायत्री पीठ के पदाधिकारीगण व नरेन्द्र कुमार गंप्ता, ओम प्रकाश सिंह, सुरेश गुप्ता के अलावा नगर पालिका के अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।
—————————————————————————————————————————–

दिनांक 02 मई, 2017
मीरजापुर- जिलाधिकारी बिमल कुमार दूबे की अध्यक्षता में तहसील चुनार में तहसील दिवस का आयोजन सम्पन्न हुआ। उक्त अवसर पर अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिकारी तहसील दिवस में प्राप्त प्रार्थना पत्रो के निस्तारण में तेजी लाएं। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी तथा समय अवधि में निस्तारण न होने पर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि तहसील दिवस को पूर्ण समाधान दिवस बनाया जाये। उन्होने कहा कि जो भी प्रार्थना पत्र प्राप्त होते है उन प्रार्थना पत्रों का निस्तारण उसी दिन किया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होने कहा कि 15 मई 2017 से ग्राम पंचायत स्तर पर ग्राम सचिवालय खोला जायेगा, जिसमें ग्राम पंचायत भवन में ग्राम स्तरीय अधिकरी बैठकर गाॅव की समस्याओं को सुनेगे तथा उनका निस्तारण मौके पर करेंगे। उन्होने कहा कि मुख्य मंत्री उ0प्र0 सरकार ने शिकायत के लिए हेल्प लाइन नम्बर चालू करने वाले है जिसमें लोग अपनी समस्याओ को बता सकते तथा उसका निस्तारण भी करा सकते है। उन्होने जिला कृषि अधिकारी को निर्देशित किया कि किसानो का पंजीकरण अभियान चलाकर 31 जुलाई तक पूर्ण कराये। इसमें किसी भी प्रकारी की लापरवाही क्षम्य नही होगी। उन्होंने सिचाई विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे पानी की आपूर्ति करें और यह सुनिश्चित करें की पानी सभी को उपलब्ध हो। जल निगम के अधिकारियो को कड़ा निर्देश दिया कि वे स्थापित हैण्ड पम्पो की जाॅच करें और जो हैण्ड पम्प यान्त्रिक खराबी के कारण खराब है उन्हें तत्काल ठीक कराये। उन्होंने कहा कि स्वच्छ पेय जल सभी को उपलब्ध कराएं जिस जगह हैण्ड पम्प का पानी पीने योग्य नही है उन्हें चिन्हित कर कार्यवाही करें।
जिलाधिकारी ने कहा कि तहसील दिवस में अपनी समस्याओं को लेकर गरीब मजलूम शोषित व्यक्ति दूर दराज से बड़ी ही आशाओं के साथ आता है और समस्याओं के समाधान के लिए आवेदन करता है ऐसे में सभी का यह दायित्व है कि ऐसे लोगो की समस्याओं का निराकरण पूरी तन्मयता व लगन के साथ करें। इस कार्य में किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नही होगी। उन्होंने आये हुए फरियादियों की बात सुनी और उपस्थित सम्बन्धित अधिकारियो को उनकी समस्याओं का निराकरण तत्काल करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक भूमि,तालाब व ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जा करने वालो को चिन्हित कर उनके खिलाफ नियमानुसार प्रभावी कार्यवाही करें।
उक्त अवसर पर जिलाधिकारी ने तहसील परिसर में लगाये गये पं0दीन दयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी के तैयारियों के सम्बन्ध में प्रदर्शनी का निरीक्षण किया। उक्त प्रदर्शनी में लघु सिचाई विभाग, भूमि परीक्षण, विद्युत विभाग, सहकारिता विभाग,राज्य पोषण मिशन,स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, राजस्व विभाग, समाज कल्याण विभाग आदि विभागों ने लोगों को अपने विभाग से संबंधित जानकारियों के बारे में यह प्रदर्शनी लगायी।
उल्लेखनीय है कि तहसील दिवस में कुल 142 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुआ। जिसमें से 19 का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। शेष के निस्तारण हेतु संबंधित विभाग के अधिकारी को दिया गया जो कि आज ही निस्तारण करने का निर्देश दिया गया है। उक्त अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक अरविन्द मिश्र, मुख्य चिकित्साधिकारी विधु गुप्ता, उप जिलाधिकारी चुनार, तहसीलदार, खण्ड विकास अधिकारीगण व संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.