मिर्जापुर में इन दिनों चोरों का हौसला सातवें आसमान पर देखा जा रहा है| अगर आप शादी में जाने वाले है तो हो जाए सतर्क क्योकी आवास विकास कॉलोनी से शादी में जाने वाले लोगो को लग रहा है लाखो का चुना | घर खाली कर के तो बिलकुल न जाए यदी जाना ही पड़े तो पुलिस को सुचना दे ताकि आप का धन रहे सुरक्छित |सबसे चर्चित क्षेत्र नगर विधानसभा क्षेत्र के कटरा कोतवाली थाना के अंतर्गत आवास विकास कॉलोनी में विगत 90 दिनों में 6 चोरियां तमाम दावों की पोल खोलती यह घटनाएं अब चर्चा की केंद्र बिंदु हो रही है | इस चोरी की खासियत यह है कि घर में यदि मात्र 10 घंटे के लिए या यूं कहें कि एक रात के लिए यदि इस इलाके के लोग अपना घर छोड़ते हैं तो चोरी होना लगभग तय हो जाता है| इस इलाके में पिछले कुछ दिनों में हुई चोरी की घटना पुष्टि करती है चोरी का तरीका लगभग एक समान है | इलाके के लोगों ने दबी जुबान से एक सस्पेंड अधिकारी के ऊपर संदेह व्यक्त किया है जो पिछले कुछ दिनों से मंदिर पर अपना आशियाना बना कर रह रहे है| आश्चर्य की बात है जहां जाड़े के दिनों में चोरी की घटनाएं सर्वाधिक सुनने को मिलती थी वही ग्रीष्म काल में ताबड़तोड़ हो रहे चोरी से लोगों की नींद उड़ गई है |पुलिस भी हाथ पैर मार रही है क्योंकि जिस थाना क्षेत्र के इलाके में ये घटनाएं हो रही है स्वाभाविक रूप से उसके ऊपर दबाव बनता नजर आ रहा है |लेकिन जानकार बता रहे हैं कि यह सारे घटना को अंजाम देने वाला एक ही गिरोह सक्रिय है जिसका हौसला दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की कर रहा है चोर न सिर्फ चोरी करता है बल्कि उसी घर में बैठकर जलपान करने के बाद ही निकलता है | इसका सीधा मतलब यह है कि चोर को पूर्ण पक्की जानकारी होती है कि घर का मालिक सुबह के पहले नहीं आएगा |और इतनी पक्की मुखबिरी के बाद ही चोर सकुशल अपने कार्यक्रम में सफल होता है |और चोर इतना चालाक है कि घर में रखा अन्य सामान चाहे वह कंप्यूटर हो चाहे घड़ी हो या अन्य दैनिक जीवन में उपयोग आने वाली चीज हो उसको हाथ नहीं लगाता सिर्फ और सिर्फ कैश और गहने को अपने साथ लेकर जाता है |चोर ने अपना काम कर दिया पीड़ित पक्ष में पुलिस में तहरीर देकर अपना काम कर दिया अब गेंद पुलिस के पाले में है देखना होगा की चोर कब तक अपने मकसद में कामयाब रहता है 1 हफ्ते के अंदर दो चोरी आवास विकास कॉलोनी में पुलिस के आगे बड़ी चुनौती देकर जा रहा है, और एक घर में ७,८, ताले तोड़ना इसका मतलब की चोर को पूरा इत्मीनान है की उसके पास पर्याप्त समय है जल्दी बाजी नहीं है आराम से चोरी करता है | मालवीय व तिवारी उसके पूर्व अग्रवाल के घरों में हफ्ते के अंदर चोरी होना और साथ ही साथ इसी मोहल्ले में कुल 5 चोरियां हो जाना बहुत बड़ा सवाल होना लाजिमी है | अगर यातायात माह यातायात सप्ताह|के तर्ज पर चोरी सप्ताह या चोरी दिवस पुलिस के द्वारा मनाया जाए तो शायद चोर को और चोरी हुए सामान की बरामदगी भी हो सकती है|