कछवां व मिर्ज़ापुर के बीच पड़ने वाला गंगा नदी पर बन रहे भटौली पुल के निर्माण में तेजी देखी जा रही है । पुल के निर्माण में निरंतर सहायक अभियंता ए. के.सिंह ,अवर अभियंता एस. पी. सिंह व जगधारीराम के नेतृत्व में समय पर पुल का निर्माण कराया जाय इसके लिए कड़ी मेहनत के साथ सेतु निगम विभाग लगा हुआ है ।पिछले कुछ हफ्ते पूर्व अनुप्रिया पटेल ने निर्माणाधीन भटौली पुल का स्थलीय निरीक्षण किया था । जिसमे प्रोजेक्ट मैनेजर ने काम मे और तेजी लाने का आश्वासन भी दिया था ।उसी क्रम में दिए गए समय पर पुल निर्माण हो जाने की संभावना भी क्षेत्रीय लोगो ने व्यक्त किया । पुल के इस निर्माण के पश्चात मिर्ज़ापुर बनारस के बीच की दूरी अन्य रास्तों की तुलना में कम हो जाएगी जिससे मिर्ज़ापुर का विकास तेजी से होगा । इस पुल की खासियत है कि इसमें चार ऐसे पिलर बनाए जा रहे है जिसके बीच से बिना अवरोध के आसानी से जहाज आ जा सकता है ।भविष्य में गंगा नदी में पानी के जहाजों के द्वारा परिवहन व यातायात की योजना चल रही है ।पुल में पहले पिलर से दूसरे पिलर की दूरी 110 मीटर और दूसरे से तीसरे पिलर की दूरी 82 मीटर इसी तरीके से तीसरे से चौथे पिलर की दूरी 110 मीटर पर निर्मित किया गया है ,जो गंगा नदी के बिल्कुल मध्य में पड़ता है ।गहरा होने के कारण भी यंहा काम करना व कराना इंजीनियर्स व अधिकारियों के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है ।चूंकि प्रोजेक्ट मैनेजर के द्वारा पूर्व में अन्य बड़े शहरों में बड़े बड़े पुलों का निर्माण प्रोजेक्ट मैनेजर के द्वारा कराया जा चुका है । जिनके अनुभव का लाभ भटौली पुल के अभियंताओं को मिल रहा है