समाचारप्रशासन की मौजूदगी में हरिवंश हुआ बेघर-MIRZAPUR

प्रशासन की मौजूदगी में हरिवंश हुआ बेघर-MIRZAPUR

मिर्ज़ापुर मड़िहान थाना क्षेत्र के कलवारी खुर्द के निवासी हरिवंश ने मुख्यमंत्री योगीनाथ को पत्र के माध्यम से अवगत कराया कि प्रार्थी विगत 25-30वर्षों से सुरक्षित हरिजन आबादी में आराजी नम्बर 318 रकबा 8 बिस्सा 14 घूर स्थित मौजा कलवारी खुर्द तप्पा तहसील मड़िहान जिला मिर्ज़ापुर में अपना मकान बनवाकर रह रहा था । कल दिनाँक 9/6/17 को प्रशासन की मौजूदगी में उसका आशियाना उजाड़कर उसे बेघर कर दिया गया । मीडिया से बात करते समय पीड़ित चिंटू रो पड़ा उसके आँसू थमने का नाम नही ले रहे थे ।मकान गिराए जाने के पूर्व उसने तमाम पत्र जिला प्रशासन व शासन को लिखकर अपनी इज्जत व घर को बचाने का सारा प्रयास करने के बावजूद जब विफल हो गया तो मीडिया के सामने फूट पड़ा । पीड़ित का कहना है कि ग्राम सभा कलवारी खुर्द में लगभग 23 वर्ष पूर्व चकबन्दी प्रक्रिया के उपरांत आराजी नंबर 318 रकबा 8 बिस्वा 14 घूर सुरक्षित हरिजन आबादी छोड़ी गई थी जिसमे चिंटू लगभग 23 वर्षों से रहता आ रहा है ।उसके बावजूद भी ग्रामसभा के नेताओं की मिली भगत से अपात्र व्यक्तियों को एक एक बिस्वा जमीन अवैध ढंग से आवासीय पट्टा सन 2008 में कर दिया गया । जिन लोगो को आवासीय पट्टा दिया गया उसमें सामान्य और पिछड़ी जाति के लोग थे जबकि वह सुरक्षित हरिजन आबादी के लिए ही चिन्हित किया गया था ।चिंटू व उसके पीड़ित परिवार के सदस्यों ने कई स्थानीय नेताओं पर व प्रशासन के कुछ अधिकारियों पर उसके खिलाफ मुकदमा कराने व उसका मकान तुड़वाने का भी आरोप लगाया है।तो वही SDM से घटना की जानकारी ली गयी तो उनके मुताबिक चिंटू अवैध रूप से घर बनवा कर रह रहा था परन्तु यदि वो पात्र होगा तो उसे कही और उपयुक्त इस्थान पर पट्टा दिया जा सकता है |

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

- Advertisement -Newspaper WordPress Theme

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं