फोटोग्राफर इन्द्रप्रकाश की मौत: सडक हादसा या हत्या?

फोटोग्राफर इन्द्रप्रकाश की मौत: सडक हादसा या हत्या
प्रकाश की मौत: सडक हादसा या हत्या? इसकी हो जाच। 

 0 मौत के रहस्यो की हो जाच 

 0 पोस्टमार्टम रिपोर्ट से भी हो सकता है खुलासा 

 0 परिजन बोले: बाईक का सिर्फ क्लच टूटा, सिर दस जगह फूटा, किसी ने नही देखी घटना

ब्यूरो रिपोर्ट, मिर्जापुर। 

दैनिक हिन्दुस्तान अखबार के फोटोग्राफर इन्द्रप्रकाश श्रीवास्तव की मौत के रहस्य से पर्दा उठना जरूरी हो गया है। इस मामले की जांच होनी चाहिए कि फोटोग्राफर श्रीवास्तव की मौत सडक हादसे मे बाईक बाईक टक्कर, बाईक पेड की टक्कर मे हुई या फिर उनकी हत्या हुई? दरअसल शुक्रवार को जब उनके आवास पर पहुच कर घटना का वृतांत उनके बडे भाई से सुना गया तो साफ साफ यह नही पता चला सका कि मौत कैसे हुई क्योकि किसी ने भी हादसे को होता देखा नही। परिजनो ने बताया कि जिस बाईक से वे चलते थे उसकी केवल क्लच टूटी है और बाईक क्षतिग्रस्त नही हुई है। हमने आपने हमारे सभी ने यह भी देखा और महसूस किया है कि श्री श्रीवास्तव के गाडी की स्पीड बहुत ही सामान्य रहा करती थी और वाराणसी के चिकित्सको ने पहले दिन बचने की संभावना से अस्सी प्रतिशत इन्कार कर दिया था। उनके सिटी स्केन मे खोपड़ी के लगभग दस टुकडे होने की बाते परिजनो द्वारा बताई गई। ऐसै मे यह बात समझ से परे है कि बाईक क्षतिग्रस्त तक न हो और खोपड़ी मे इतने भाग हो जाय। बहरहाल अब तक कभी बाईक से बाईक मे टक्कर हुई तो बाईक क्षतिग्रस्त होती। और यदि बाईक पेड से भिड़ी होती तो भी बाईक क्षतिग्रस्त होती लेकिन ऐसा कुछ भी नही हुआ। बहरहाल जो भी हो, मौत के रहस्यो से पर्दा उठने के लिए फोटोग्राफर के मौत की विशेष जांच होनी चाहिए। बहरहाल वाराणसी ट्रामा सेन्टर मे उनकी मृत्यु के बाद हो रहे पोस्टमार्टम रिपोर्ट से भी इसका खुलासा हो सकता है। आल इण्डिया रिपोर्टर्स एसोसिएशन ने पुलिस अधीक्षक से जाच की अपेक्षा की है। 

Editor-in-chief of this district based news portal.

Comments are closed.