समाचारप्रभारी मंत्री ने 100 दिन के कार्यो के प्रगति की समीक्षा-MIRZAPUR

प्रभारी मंत्री ने 100 दिन के कार्यो के प्रगति की समीक्षा-MIRZAPUR

दिनांक 03 जुलाई, 2017
प्रभारी मंत्री ने 100 दिन के कार्यो के प्रगति की समीक्षा
मीरजापुर- प्रदेश के वित्त/प्रभारी मंत्री राजेश अग्रवाल ने आज कलेक्टेªट सभागार में प्रदेश सरकार के निर्देश के क्रम में जनपद में बनाये गये 100 दिन की कार्ययोजना की प्रगति की समीक्षा की। इस दौरान उन्होने कहा कि जनपद के किसानो की आमदनी बढ़ाने के उददेश्य से औषधि खेती के बढ़ावा देने के लिए बल देते हुए कहा कि उद्यान तथा कृषि विभाग वैज्ञानिकों से सहायोग से औषधि खेती कराने के लिए किसानो को प्रशिक्षित करें। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होने कहा कि मरीजों को सस्ती दवाईयाॅ उपलब्ध कराने के लिए जिला अस्पताल परिसर के अन्दर जन औषधि परियोजना का क्रियान्वयन सुनिश्चित कराये। उन्होने कहा कि जनपद में पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए विन्ध्याचल के त्रिकोण का चित्रण करते हुए एक डाकूमेन्ट्री फिल्म बनायी जा रही है तथा उसी क्रम चुनार किला में लाइट एण्ड साउण्ड देने का भी प्रयास किया जा रहा है। उन्होने कहा कि फाल को विकसित किया जाये तथा खेलो इण्डिया के तहत स्पोर्ट काम्पलेक्स बनाया जायेगा।
किसी विभाग की समीक्षा के दौरान मंत्री जी ने बताया कि 100 दिन की कार्ययोजना के लक्ष्य के सापेक्ष 13 कृषक गोष्ठी 24 फार्म स्कूल 120 सामान्य प्रदर्शन तथा कृषक वैज्ञानिक संवाद व कृषको का प्रशिक्षण कराया गया जो लक्ष्य शत-प्रतिशत पूर्ति की गयी। इसीप्रकार पशुपाल विभाग द्वारा टीकाकरण के अन्तर्गत गलाघोटू के 162000.00 के सापेक्ष 123800.00 तथा पी0पी0 आर के 30,000.00 के सापेक्ष शत-प्रतिशत टीकाकरण का कार्य किया गया। इसीप्रकार मुख्यमंत्री जी के महत्वपूर्ण योजना सड़को के गडढामुक्ती के तहत लोक निमार्ण विभाग, नगर पालिका परिषद, जिला पंचायत तथा मण्डी समिति के द्वारा जनपद में कुल 2091.66 किलोमीटर लम्बाई के सापेक्ष 1850.56 किलोमीटर सड़को को गड़ढा मुक्त बनाया गया जो लक्ष्य के सापेक्ष 88.47 प्रतिशत हैं। राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन समूहो का गठन, रिवाल्विंग फन्ड, समूहो का प्रशिक्षण तथा बैंक से वित्तपोषित कराने के कार्य को शत-प्रतिशत से अधिक पूति की गयी है। विद्युत विभाग द्वारा 125 के सापेक्ष 149 परिवर्तकों की क्षमतावृद्धि किया गया तथा नये विद्युत संयोजन के तहत 104.86 प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति की गयी है। जल निगम के द्वारा मोहनपुर भौरख पेयजल योजना 95 प्रतिशत, सोनाई
पेयजल योजन राजपुर पेयजल योजना के अन्तर्गत क्रमशः 95-95 प्रतिशत
की लक्ष्य प्राप्ति की गयी है। इसीप्रकार 47 नये हैण्डपम्पों के सापेक्ष 47 हैण्डपम्प लगाये गये तथा 253 रिबोर के सापेक्ष 462 हैण्डपम्पों का रिबोर किया गया जो लक्ष्य से अधिक है। मा0 मंत्री ने विभिन्न पेयजल योजनाओं में प्रगति लाने का निर्देश दिया। खादी ग्रामोद्योग तथा उद्योग विभाग द्वारा योजनाओं को लागू कर तथा बैंको से समन्वय स्थापित कर अधिक से अधिक लोगों को रोजगार सृजन दिलाने का निर्देश दिया। जनपद में गेहूॅ खरीद के प्रगति पर मा0 मंत्री जी द्वारा संतोष व्यक्त किया गया। जिलाधिकारी बिमल कुमार दूबे ने बताया कि जनपद में विभिन्न एजेन्सियों द्वारा 67 केन्द्र खोलकर 101400 मैट्रिक टन लक्ष्य के सापेक्ष 49884.55 मैट्रिक की खरीद की गयी जो कि गतवर्ष की खरीद से काफी अधिक है। आपूति विभाग की समीक्षा के दौरान मा0 मंत्री जी ने कहा कि पात्र/अपात्र परिवारों का सत्यापन कराया जाये ताकि पात्र व्यक्ति इसका लाभ उठा सके।
बैठक में मनरेगा, पंचायतीराज/ओडीएफ, लघु सिचाई, नहरों की सफाई, भूमि संरक्षण, वृक्षारोपण, राजस्व वादो का निस्तारण, श्रम विभाग, मत्स्य विभाग, उद्यान, सेवायोजन तथा युवा कल्याण विभागो की विस्तृत समीक्षा की। नहरों की सफाई के कार्यो पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि किये गये नहरो सफाई की सूची जनप्रतिनिधियों को दे तथा जनप्रतिनिधियों के सत्यापन प्रमाण पत्र के बाद ही भुगतान सुनिश्चित कराये। यह भी कहा कि जिलाधिकारी स्वयं भी निगरानी रखे।
इस अवसर पर नगर विधायक रत्नाकर मिश्र, विधायक मड़िहान, जिलाध्याक्ष भाजपा, बालेन्दुमणि त्रिपाठी, मीडिया प्रभारी, वीेरेन्द्र यादव,जिलाधिकारी बिमल कुमार दूबे, मुख्य विकास अधिकारी प्रियंका निरंजन, संयुक्त मजिस्ट्रेट अश्वनी कुमार पाण्डेय, सहित सभी जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।
————————————————————————————————–
प्रभारी मंत्री ने माहिला आशा ज्योति वैन को दिखाया हरी झण्डी
मीरजापुर- प्रदेश के वित्त/प्रभारी मंत्री राजेश अग्रवाल ने आज अष्ठभूजा निरीक्षण गृह पर 181 हेल्पलाइन महिला आशा ज्योति वैन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होने कहा कि अपराध मुक्त, न्यायमुक्त व भयमुक्त वातावरण सृजित कर कानून का राज स्थापित करने तथा महिलाओं/किशोरियों के मन में सुरक्षा का विश्वास जागृत करने के लिए सरकार कृत संकलपित है, यह वैन उसी की एक कड़ी है जो बालिकाओं/महिलाओं के उत्पीडन होने पर 181 नम्बर डायलकर इस वैन के माध्यम से सहायता प्राप्त की जा सकती है। जिलाधिकारी ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि शासन के द्वारा महिलाओं एवं बालिकाओं के सुरक्षा व सामाजिक एवं आर्थिक सशक्तीकरण हेतु 181 महिला हेल्प लाइन के रूप में जनपद मीरजापुर को 01 रेस्क्यू वैन उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने बताया कि यह 181 एक टोल फ्र्री नम्बर है जो 24 घंटे कार्य करेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि कोई भी महिला या बालिका जो विषम परिस्थितियों से ग्रस्त हो अथवा उसको किसी प्रकार की समस्या या आवश्यकता की पूर्ति हेतु सलाह की आवश्यकता हो तो टोल फ्री नम्बर के माध्यम से सहायता प्राप्त कर सकती है।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं

- Advertisement -