समाचारसड़को की स्थिति खराब होने पर मण्डलायुक्त ने लोक निर्माण विभाग के...

सड़को की स्थिति खराब होने पर मण्डलायुक्त ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को लगायी फटकार

मण्डलायुक्त ने शासन के विकास प्राथमिकता कार्यक्रमो के प्रगति की बैठक कर ली जानकारी

मण्डलायुक्त ने क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी के बैठक में अनुपस्थित रहने पर कार्यवाही हेतु शासन को पत्राचार व प्रगति खराब होने सहायक पर्यटन अधिकारी से स्पष्टीकरण की मांग

मुख्य पशु चिकित्साधिकारी भदोही द्वारा सरकारी भवन में रहते हुये मकान किराया लेने पर मुख्य विकास अधिकारी व अपर निदेशक पशुपालन को जांच कर पत्र प्रेषित करने का मण्डलायुक्त ने दिया निर्देश

कानून व्यवस्था, कर करेत्तर व राजस्व वादो के निस्तारण प्रगति की भी की गयी समीक्षा

मीरजापुर 26 जून 2024- मण्डलायुक्त विन्ध्याचल मण्डल डाॅ0 मुथुकुमार स्वामी बी0 ने मुख्यमंत्री डैशबोर्ड वाले विकास कार्यो, कानून व्यवस्था, एवं कर करेत्तर, राजस्व वसूली व वादो के निस्तारण के प्रत्येक बिन्दुओ के प्रगति कार्य की समीक्षा आयुक्त कार्यालय सभागार में जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी व सभी मण्डलीय अधिकारियों के साथ बैठक कर जानकारी प्राप्त की। बैठक में जिलाधिकारी सोनभद्र चन्द्र विजय सिंह, भदोही विशाल कुमार, मीरजापुर प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी विशाल कुमार, पुलिस अधीक्षक मीरजापुर अभिनन्दन, पुलिस अधीक्षक सोनभद्र, पुलिस अधीक्षक भदोही मीनाक्षी कात्यान, मुख्य विकास अधिकारी सोनभद्र सौरभ गंगवार, भदोही यशवंत कुमार, मीरजापुर अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे देवेन्द्र प्रताप सिंह, वि0/रा0 शिव प्रताप शुक्ल, मुख्य राजस्व अधिकारी सत्य प्रकाश सिंह, अपर जिलाधिकारी सोनभद्र, अपर जिलाधिकारी भदोही के अलावा सभी विभागो के मण्डलीय व जनपदीय अधिकारी उपस्थित रहें।
बैठक में मण्डलायुक्त द्वारा सम्भावित बाढ़ के दृष्टिगत तीनो जनपदो के जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि बाढ़ से प्रभावित होने वाले स्थलों की ग्रामवार समीक्षा कर बाढ़ से बचाव की पूर्ण तैयारी करा ली जाए। उन्होने बाढ़ प्रभावित परिवारो हेतु खाद्यान पैकेट वितरण हेतु खाद्यान टेण्डर की कार्यवाही यदि नही की गयी हो तो समय रहते टेण्डर आदि करा लिया जाए। उन्होने कहा कि बाढ़ के दौरान नावों की व्यवस्था एवं नाविकों की दैनिक मजदूरी की व्यवस्था करा लें। उन्होने कहा कि सभी जिलाधिकारी समस्त तटबन्धो का निरीक्षण तथा राहत शिविरों का सत्यापन करा लें। उन्होने कहा कि तीनो जनपदो में कुल कितने ब्रिज है और उनकी क्या स्थिति है एक सप्ताह के अन्दर रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। उन्होने कहा कि ओवरलोड वाहनो प्रभावी पर अंकुश लगाये जाने हेतु अभियान चलाकर ओवरलोड वाहनो पर नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही की जाए। मण्डलायुक्त ने कहा कि शास्त्री सेतु की जांच हेतु प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग को पत्राचार करते हुये टीम बनाकर इसकी पुनः जांच आई0आई0टी0 कानपुर से कराया जाए। नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति की समीक्षा के दौरान मण्डलायुक्त ने कहा कि टैप कनेक्शन में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति हो, इसके लिये आवश्यक है मण्डल के सभी जिलाधिकारीगण समय-समय पर पानी की टेस्टिंग कराते रहें तथा पाइप लीकेज की समस्या की भी समीक्षा कर लें। उन्होने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत खोदी गयी सड़को की बहाली अधिक से अधिक 10 दिनों के अन्दर करा लिया जाए। उन्होने कहा कि प्रत्येक सरकारी/अर्द्ध सरकारी भवनों यथा-प्राथमिक विद्यालय/पंचायत भवन/स्वास्थ्य केन्द्र आदि में वर्षा जल संचयन संरचनाओ का निर्माण अवश्य कराया जाए। कृषि विभाग की समीक्षा में मण्डलायुक्त ने कहा कि हीट बेब से बचाव हेतु डी0एस0आर0 तकनीकी को अधिक से अधिक उपयोग हेतु प्रचार प्रसार कराया जाए। उन्होने कहा कि जल संचयन हेतु निजी खेत, तालाब स्वीकृत किये गये है जिलाधिकारी भूमि संरक्षण अधिकारी के साथ समीक्षा कर जल्द से जल्द तालाबों की खुदाई करा दी जाए। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का व्यापक प्रचार प्रसार कराया जाए। पशुपालन विभाग की समीक्षा के दौरान कहा कि सड़को पर घूम रहे गौवंशो को पकड़कर गौ आश्रय स्थलो पर रखा जाए। उन्होेने कहा कि शत प्रतिशत पशुओ टीकाकरण कराया जाना मुख्य पशु चिकित्साधिकारी सुनिश्चित कराए। उन्होने कहा कि सम्भावित बाढ़ के दृष्टिगत पशुओं के लिये भूषा हरे चारे आदि का समुचित प्रबन्ध पहले करा लिया जाए। विद्युत विभाग की समीक्षा में अधिशासी अभियन्ता को निर्देशित किया गया कि उपभोक्ताओं त्रुटिपूर्ण विद्युत बिल उपलब्ध कराते हुये बकाया बिलो का भुगतान कराना सुनिश्चित करें।
मण्डलायुक्त द्वारा स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा कहा कि दुघर्टना वाले स्थल पर एम्बुलेंस कितने समय पर पहुंच रही है, जनपद के तीनो जिलाधिकारी इसकी जांच करे कि पुलिस के बाद एम्बुलेंस पहुंच रही है या पहले यदि बाद में तो कार्यवाही करें तथा सभी मुख्य चिकित्साधिकारी एक वर्ष के दौरान कितनी मौत हुयी है इसकी आख्या उपलब्ध कराए। मण्डलायुक्त ने बायोमेडिकल उपकरण रखरखाव कार्य की समीक्षा में तीनो जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि एक कमेटी गठित करते हुये उप जिलाधिकारियों व खण्ड विकास अधिकारियों से जाचं कराते हुये फोटोग्राफ के साथ आख्या उपलब्ध कराए। मोबाइल मेडिकल यूनिट भदोही में न होने पर जिलाधिकारी भदोही को शासन में पत्राचार करने का निर्देश दिया गया। सड़क निर्माण की समीक्षा मे बताया गया कि जनपद सोनभद्र में 50 सड़को में 32 पूर्ण शेष पर कार्य चल रहा है, जनपद भदोही में 24 में 18 पूर्ण शेष पर कार्य एवं जनपद मीरजापुर में 130 सड़को में 82 पूर्ण शेष पर कार्य होना बताया गया। पर्यटन विभाग की समीक्षा में क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी के बैठक में अनुपस्थित रहने पर शासन में पत्राचार करने का निर्देश एवं प्रगति खराब होने पर सहायक क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी से स्पष्टीकरण की मांग की गयी। मण्डलायुक्त ने कहा कि मानव सम्पदा पोर्टल पर सभी अधिकारी कर्मचारी 30 जून 2024 तक सम्पत्ति का विवरण अपलोड कर दे, 30 जून 2024 के बाद ऐसे अधिकारी कर्मचारी जिन्होने अपनी सम्पत्ति का विवरण नही दिया है उनका वेतन रोक दिया जाए। बैठक में ग्राम्य विकास की समीक्षा में बी0सी0 सखी के अन्तर्गत कुल बी0सी0 सखी के सापेक्ष अभी अधिक संख्या में सखी का परिचालन जनपद स्तर पर लम्बित है, मुख्य विकास अधिकारी समीक्षा कर शत प्रतिशत प्रगति सुनिश्चित कराए। अमृत सरोवर योजनान्तर्गत चिन्हित सभी साईटो पर कार्य प्रारम्भ कर पूर्ण कराया जाए। उन्होने कहा कि जल संचयन हेतु मनरेगा योजनान्तर्गत अथवा राज्य वित्त/15वां वित्त के मध्य कन्वर्जेस करते हुये निर्धारित प्राविधानों के अनुरूप नियमानुसार सरोवरो की साफ-सफाई करायी जाए। हीटवेब की समीक्षा में मण्डलायुक्त ने कहा कि इससे बचाव हेतु रेडियों जिंगल, पोस्टर एवं पम्पलेट के माध्यम से प्रचार प्रसार कराया जाए। हीटवेब के सम्बन्ध में जिलाधिकारी विभागो द्वारा कराये जा रहे कार्यो की समीक्षा करे तथा किसी प्रकार जन हानि न हो इसके लिये चिकित्सालयों में दवाओ आदि का समुचित प्रबन्ध कराया जाए। उन्होने कहा कि अस्पतालो में आने वाले मरीज और उनके तीमारदारो के पर्चे/दवा वितरण काउंटर पर पंखे कूलर और ठण्डे पानी की व्यवस्था करायी जाए। उन्होने कहा कि ओ0आर0एस0 पैकेटस, पैरासिटामाल टैबलेट आदि की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सुनिश्चित करायी जाए। मुख्य विकास अधिकारी भदोही ने मण्डलायुक्त कोे बताया कि मुख्य पशु चिकित्साधिकारी भदोही के द्वारा सरकारी भवन में रहते हुये मकान किराया भत्ता लिया जा रहा है व टेण्डर आदि की प्रक्रिया के बिना दवाओ का क्रय किया जा रहा है जिस पर मण्डलायुक्त ने मुख्य विकास अधिकारी भदोही व अपर निदेशक पशुपालन को इनके विरूद्ध जांच कर कार्यवाही हेतु पत्र प्रेषित करने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि भविष्य में भी यदि इस प्रकार का कोई प्रकरण संज्ञान में आता है तो सम्बन्धित कि विरूद्ध निलम्बन की कार्यवाही की जायेगी।
बैठक में मण्डलायुक्त द्वारा काननू व्यवस्था की समीक्षा के दौरान मण्डल के जनपदो में काननू व्यवस्था बनाये रखने के दृष्टिगत गुण्डा एक्ट, गैंगेस्टर, वादो के निस्तारण आदि की समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया तथा विभिन्न मदो में कर करेत्तर, विविध देय, मुख्य देय में राजस्व वसूली लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत करने का निर्देश देते हुये मण्डलायुक्त तीन वर्ष व पांच वर्ष से लम्बित मुकदमो के निस्तारण में तेजी लाने का निर्देश दिया। बैठक में मुख्य अपर निदेशक स्वास्थ्य, चिकित्साधिकारी मीरजापुर सी0एल0 वर्मा, मुख्य चिकित्साधिकारी सोनभद्र, भदोही, प्रभागीय वनाधिकारी अरवन्दि राज मिश्र, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग सुनील दत्त, संयुक्त आयुक्त उद्योग वीरेन्द्र कुमार, उप निदेशक बेसिक शिक्ष़्ाा, उप निदेशक पंचायत राम जियावन सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं