समाचारसभी बानर मिल कर हनुमान जी के बल और पौरुष को जगाया-MIRZAPUR

सभी बानर मिल कर हनुमान जी के बल और पौरुष को जगाया-MIRZAPUR

MIRZAPUR-छानबे,बिहसडा बाजार स्थित श्री रामलीला कमेटी द्वारा बीती रात लंका दहन का मंचन किया गया जो छानबे छेत्र का प्रसिद्ध मंचन है जहाँ पर इस मंच को देखने के लिए हजारों की भीड़ एकत्रित होती है ।भगवान श्री राम द्वारा बानर सेना को सीता माताकि खोजमें भेजा गया बानर सेना सीता माता को खोजते खोजते समुद्र तट पर पहुचे ।उसके पश्चात समुद्र पार जाने के लिए सभी ने अपने अपने बल पौरुष का बखान किए परन्तु जाकर वापस आने की हिम्मत किसी में नही थी ।सभी बानर दल ने मिल कर हनुमान जी के बल और पौरुष को जगाया। हनुमान जी श्राप के प्रभाव में थे ।जब हनुमान जी को अपने बल और पौरुष को जगाया गया तब वे समुद्र पर कर माता का पता लगाने निकले ।उसके पश्चात बिभीषन से मिले अशोक बाटिका में माता सीता से मिल कर अशोक़ बाटीका का विध्वंश कर रावण के पुत्र अच्छय कुमार समेत कई राकच्छसो का बध् किए जिससे कुपित होकर रावण ने अपने प्रतापी पुत्र मेघनाथ को बानर को पकड़ ने के लिए भेजा मेघनाथ ने जब बानर को पकड़ के राज दरबार में पेश किया तो रावण और हनुमान में काफी वार्ता लॉप हुआ पुत्रकी मौत से दुखी रावण हनुमान कि पूछ में आग लगा देने का हुक्म दिया ।हनुमान की पूछ में आग लगते ही हनुमान ने सारी लंका जला डाली ।यह राम लीलाका मंचन कब से हो रहा है यह प्रबंधकगोपाल दास जायसवाल को भी नही पता है उनका कहना है कि जब से मैं जान रहा हु तभी से आयोजन हो रहा है । वर्तमान में पन्ना देबी भगवान दास सेवा संस्था बिहसडा कला के अध्यछ व् प्रधान बलराम उर्फ़ पप्पू जायसवाल व् छेत्र पंचायत सदस्य संजू जायसवाल के सहयोग से चल रहा है इसमें मुख्य सहयोगी सुरेश सिंह अजय जायसवाल दिनेश सिंह अनिल सिंह दीनानाथ सेठ वह बरखेड़ा कला ग्राम प्रधान विजय पांडे ने पर चढ़कर सहयोग कर रहे हैं इस आयोजन में राम की भूमिका में प्रद्युम्न मिश्रा लक्ष्मण की भूमिका में छोटे बाबू हनुमान लालप्रताप सिंह बिभीषन की भूमिका सुरेश सिंह रावन की भूमिका दिनेश सिंह अंगद राहुल मोदन वाल सुग्रीव की भूमिका रमेश तिवारी ने अदा की है।लंका दहन को देख कर लोग गदगद हो गए।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं

- Advertisement -