समाचारकम्युनिटी पुलिसिंग कार्यक्रम चलाया जा रहा है।-हफीजुर्रहमान

कम्युनिटी पुलिसिंग कार्यक्रम चलाया जा रहा है।-हफीजुर्रहमान

*जनपद थानों पर नियुक्त पुलिसकर्मियों को दिया गया सर्विलान्स का प्रशिक्षण – आशीष तिवारी, पुलिस अधीक्षक मीरजापुर महोदय के निर्देशन में जनपद मीरजापुर में अपराध एवं अपराधियो के विरूद्ध अभियान चलाकर कार्यवाही तो करायी ही जा रही है, इसके साथ ही जनपदीय पुलिस को आधुनिक एवं दक्ष भी बनाया जा रहा है। इसी क्रम में महोदय द्वारा सभी थाना प्रभारियों को आधुनिक उपकरण प्रदान किये गये हैं तथा जनपद के समस्त थानों पर नियुक्त चयनित कर्मियों को सर्विलांस का प्रशिक्षण भी समय-समय पर वर्कशाप का आयोजन कर प्रदान किया जा रहा है।
पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा दिनांक-05-08-2017 से दिनांक-09-08-2017 तक सर्विलान्स वर्कशाप का आयोजन किया गया था, जिसमें जनपद के समस्त थानों से थाना प्रभारियों, उ0नि0 एवं 02-02 कम्प्यूटर दक्ष आरक्षियों को सर्विलान्स के विषय में सर्विलान्स सेल के अधिकारीगण द्वारा प्रशिक्षण दिया गया, जिसका पर्यवेक्षण पुलिस अधीक्षक महोदय ने स्वयं किया तथा प्रतिदिन प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले पुलिसकर्मियों को ब्रीफ करते हुये सर्विलान्स की बारीकियों से भी अवगत कराया गया। महोदय द्वारा सर्विलान्स प्रशिक्षण के दौरान पुलिसकर्मियों को ब्रीफ करते हुये उपयोगी जानकारियाँ प्रदान की गयीं। महोदय द्वारा दिये जाने वाले प्रशिक्षण में प्रोजेक्टर पर स्लाईड के माध्यम से किसी मोबाइल नम्बर का लोकेशन, सीडीआर निकलवाने की प्रक्रिया, सीडीआर का अवलोकन एवं अवलोकन के उपरान्त उसमें से लाभप्रद तथ्यों का निष्पादन करने के सम्बन्ध में विस्तार से बताया गया तथा विभिन्न घटनाओं से सम्बन्धित सीडीआर आदि का उपयोग करते हुये प्रयोग करके भी दिखाया गया। उक्त प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य क्षेत्र में होने वाली लूट,चोरी,छिनैती,हत्या आदि घटनाओं के अनावरण हेतु किये जाने वाले प्रयासों को अधिक से अधिक सकारात्मक परिणामदायी बनाना है। महोदय द्वारा बताया गया कि अपराधियों को धरपकड़ हेतु सर्विलान्स बहुत ही उपयोगी तकनीक है, जिसकी जानकारी कुछ ही लोगों के पास है। इस प्रकार के प्रशिक्षण से पुलिसकर्मियों को सर्विलान्स की जानकारी देकर इस उपयोगी तकनीक की मदद से अपराधियों को पकड़ने हेतु किये जा रहे प्रयासों में सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकेगा।
==========================================================================================
*❗नक्सल प्रभावित गाँवों में कम्युनिटी पुलिसिंग के तहत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन❗*
आशीष तिवारी पुलिस अधीक्षक मिर्ज़ापुर महोदय के कुशल निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन मीरजापुर एवं क्षेत्राधिकारी आपरेशन मीरजापुर के पर्यवेक्षण में जनपद के नक्सल प्रभावित गाँवों के लोगों को भयमुक्त वातावरण प्रदान करने एवं उन्हें विकास की मुख्य धारा से जोड़ने तथा उनमें क्षेत्र के विकास हेतु सहयोग की भावना जागृत करने के उद्देश्य से कम्युनिटी पुलिसिंग कार्यक्रम चलाया जा रहा है। उक्त कार्यक्रम के तहत नक्सल प्रभावित गाँवों में विभिन्न खेल-कूद प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है तथा गरीब पुरूषों एवं महिलाओं को वस्त्र,छाता आदि भी वितरित किया जा रहा है।
इसी क्रम में दिनांक-04-08-2017 को हफीजुर्रहमान, अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन महोदय द्वारा कार्यक्रम का शुभारम्भ किसान इन्टर कालेज राजगढ़ थाना मड़िहान में वालीबाल मैच के आयोजन के साथ किया गया। दिनांक-08-08-2017 को थाना लालगंज के ग्राम लेदुकी में जन चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएँ सुनीं गयीं एवं गरीब लोगों को छाता वितरित किया गया, थाना हलिया के ग्राम मतवार में जन चौपाल लगायी गयी तथा लोगों की समस्याएँ सुनीं गयीं। दिनांक-09-08-2017 को थाना लालगंज के ग्राम सन्तनगर में, थाना हलिया के ग्राम कुशियरा में, थाना अहरौरा के ग्राम दादो में तथा थाना मड़िहान के ग्राम हिनौता-दरबान, सरसों-सेमरी में वालीबाल का मैच कराया गया। थाना अहरौरा के ग्राम जुड़ूई व दादों में, थाना मड़िहान के ग्राम सेमरी, सरसों, दरबान, मलुआ, शेरूआ, अमोई में, थाना जमालपुल के ग्राम भोकरौध, नौडिहा, नन्दपुर, गोरखी, सहिजनी, हरदी सहिजनी व ग्राम सलामतपुर में जन चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएँ सुनीं गयीं। दिनांक-10-08-2017 को थाना मड़िहान के ग्राम पड़रियाकला व रामपुर-38 में वालीबाल मैच का आयोजन कराया गया तथा जन चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएँ सुनीं गयीं।
पुलिस अधीक्षक मीरजापुर महोदय द्वारा अवगत कराया गया है कि नक्सल प्रभावित क्षेत्र में कम्युनिटी पुलिसिंग कार्यक्रम के अन्तर्गत समय-समय पर विभिन्न प्रकार का आयोजन चलता रहेगा तथा क्षेत्र में नक्सल उन्मूलन हेतु आमजन खासकर नवयुवकों को प्रोत्साहन मिलता रहेगा। वर्तमान समय में सरकार नक्सलवाद की समस्या को जड़ से समाप्त करना चाहती है, जिसके लिए लोगों का सहयोग अपेक्षित है। नक्सलवाद का सहयोग बिल्कुल भी न करें। वर्तमान समय में सरकार द्वारा नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में विकास हेतु विभिन्न प्रकार की योजनाएं चलायी जा रही हैं। पिछले दिनों नक्सल प्रभावित गाँवों के 150 युवकों को निःशुल्क प्रशिक्षण हेतु चयनित किया गया था, जिनको प्रशिक्षण प्रदान करने वाली कम्पनी द्वारा 03 माह का निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा तथा उनके रोजगार में सहायता भी प्रदान की जायेगी। इसी प्रकार की अन्य योजनायें भी सरकार एवं समाजसेवी संगठनों द्वारा चलायी जा रहीं हैं। बिल्कुल निर्भीक होकर अपना एवं अपने क्षेत्र के विकास में सहयोग करते रहें। किसी भी प्रकार की सूचना प्राप्त होने अथवा घटना घटित होने अथवा होने की आशंका होने पर तत्काल सम्बन्धित पुलिस अधिकारियों को सूचित करें। लोगों को नक्सल क्षेत्र हेतु पुलिस एवं सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न योजनाओँ के बारे में भी बताया गया।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं

- Advertisement -