समाचारबैठक में अनुपस्थित रहने पर अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी से स्पष्टीकरण की मांग

बैठक में अनुपस्थित रहने पर अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी से स्पष्टीकरण की मांग



जिलाधिकारी द्वारा की गयी शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले विकास कार्यक्रमों के प्रगति समीक्षा

गोल्डन कार्ड की कम प्रगति पर जिलाधिकारी द्वारा नाराजगी व्यक्त करते हुये प्रगति लाने का दिया निर्देश
मीरजापुर 13 जनवरी 2023- जिलाधिकारी दिव्या मित्तल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक में आयुष्मान भारत योजनान्तर्गत गोल्डन कार्ड बनाये जाने की अपेक्षित प्रगति न आने पर जिलाधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये मुख्य चिकित्साधिकारी एवं अपर मुख्य चिकित्साधिकारी /नोडल अधिकारी आयुष्मान भारत को निर्देशित करते हुये कहा कि ग्राम पंचायतों के सहयोग से ग्राम पंचायत स्तर पर कैम्प लगाकर गोल्डन कार्ड बनाये जाने की प्रगति में सुधार लायें। उन्होने कहा कि गोल्डन कार्ड की प्रगति जनपद की डी श्रेणी में आने पर जनपद की स्थिति खराब हो रही हैं। अतएव जनवरी माह के अन्त तक प्रगति न लाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही हेतु बाध्य होना पड़ेगा। आशाओं के मानदेय भुगतान को समय से कराने का निर्देश दिया गया। जननी सुरक्षा योजना में भी कम प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की गयी। बैठक में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के द्वारा बिना किसी पूर्व सूचना दिये जनपद से बाहर एवं बैठक से अनुपस्थित रहने पर स्पष्टीकरण की मांग की गयी। आई0सी0डी0एस0 की समीक्षा के दौरान निर्माणाधीन आंॅगनबाड़ी केन्द्रों के प्रगति की समीक्षा करते हुये निर्देशित किया गया कि जिन केन्द्रो पर छत स्तर तक कार्य पूर्ण हो गया है उसकी फिनिशिंग करते हुये तत्काल हैण्डओवर की कार्यवाही सुनिश्चित करायें। सड़क निर्माण एवं चैड़ीकरण के दौरान अधिशासी अभियन्ता द्वारा बताया गया कि पांॅच नये स्वीकृत सड़कों पर कार्य प्रारम्भ करा दिया गया हैं। जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुये कहा कि सड़को के निर्माण कार्य में गुणवत्ता का विशेष ध्यान दिया जाय। ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के द्वारा बताया गया कि लक्ष्य के सापेक्ष चार सड़को को पूर्ण करा लिया गया हैं 18 सड़को पर द्वितीय किश्त प्राप्त हो गयी है जिस पर कार्य प्रगति पर हैं। अधिशासी अभियन्ता द्वारा बताया गया कि कुछ सड़को पर वन विभाग एवं एक सड़क पर स्थानीय लोगो का विवाद है जिस पर जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि सम्बन्धित उप जिलाधिकारी व वन विभाग सम्पर्क स्थापित करते हुये समस्या का निदान कराते हुये कार्य प्रारम्भ किया जाय। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी द्वारा उप जिलाधिकारी सदर से वार्ता कर समस्या निदान कराने का निर्देश दिया। फसल बीमा के सम्बन्ध में उप निदेशक कृषि एवं सम्बन्धित बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि को कड़े निर्देश देते हुये कहा गया कि किसानों के फसलों के नुकसान का मुआवजा देते हुये साप्ताहिक रूप से प्रगति से अवगत कराया जाय। गोवंश आश्रय स्थलों में समुचित व्यवस्थाए सुनिश्चित कराने का निर्देश देते हुये जिलाधिकारी द्वारा कहा गया कि सहभागिता योजना में भी प्रगति लायी जाय। बैठक में जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा बताया गया कि सभी सामुदायिक शौचालय पूर्ण करा लिये गये हैं। बैठक में अमृत योजनान्तर्गत पार्को सौन्दर्यीकरण हेतु अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद मीरजापुर व चुनार को निर्देशित किया गया कि योजनान्तर्गत जो भी पार्क चिन्हित किये गये है उनका समय से पूर्ण कराना सुनिश्चित करायें। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत भी बताया गया कि फरवरी माह में तिथि निर्धारित कर शत प्रतिशत लक्ष्य पूर्ण करा लिया जायेगा। बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण, खाद्य सुरक्षा योजना, रोजगारपकर योजनाए, खादी ग्रामोद्योग, उद्योग, सिचाई, जल निगम, विद्युत सहित अन्य सभी विभागों की योजनाओं की बिन्दुवार समीक्षा करते हुये अपेक्षित प्रगति लाने का निर्देश दिया गया।

50 लाख से अधिक लागत से निर्माणाधीन परियोजनाओं की भी की गयी समीक्षा

जिलाधिकारी द्वारा जनपद में 50 लाख से अधिक लागत से निर्माणाधीन विभिन्न परियोजनाओं के प्रगति की भी समीक्षा की गयी। समीक्षा के दौरान सालिड बेस्ड मैंनेजमेंट के तहत बताया गया कि रिवाइज स्टीमेंट शासन को प्रेषित कर दिया गया है बजट प्राप्त होते ही कार्य प्रारम्भ करा दिया जायेगा। बैठक में माॅडल स्कूल बैरमपुर एवं महामलपुर के निर्माण कार्य पूर्ण कराने हेतु जिला विद्यालय निरीक्षक व सम्बन्धित कार्यदायी संस्था सी0एण्ड0डी0एस0 संयुक्त रूप से निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। समीक्षा के दौरान दो न्यायालय कक्ष निर्माण, आई0टी0 इंजीनियरिंग कालेज मीरजापुर, राजकीय महाविद्यालय मझवा, शीतला मन्दिर घाट अदलहाट, डायस विद्यालय शिवशंकरी धाम, दृष्टिबाधित विद्यालय कस्तूरबा गांधी विद्यालय जमालपुर व मझवा, गौ संरक्षण केन्द्र जंगल मोहाल, पुलिस लाइन में निर्माणाधीन बैरक, केन्द्रीय विद्यालय निर्माण सहित सभी निर्माण कार्यो की समीक्षा की गयी। समीक्षा के दौरान डायस विद्यालय को फरवरी माह में पूरा करने का निर्देश दिया गया तथा कार्यदायी संस्था द्वारा बताया गया कि राजकीय महाविद्यालय मझवा में दो दिन पूर्व अवशेष बजट प्राप्त हो गया है जून माह तक पूर्ण करा लिया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी कार्यो में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाय तथा नये स्वीकृत कार्यो के प्रगति के बारे में भी रिपोर्ट उपलब्ध कराया जाय।

जिला गंगा समिति में प्राविधानित कार्यो को सम्बन्धित विभाग कराये सुनिश्चित

बैठक के दौरान जिलाधिकारी द्वारा जिला गंगा समिति की भी बैठक की गयी। जिसमें स्वच्छता पखवाड़ा गंगा आरती, गंगा किनारे प्राकृतिक खेती, घाटों का विकास, गंगा किनारे सामाजिक वनीकरण, गंगा के किनारे पार्को का निर्माण सौन्दर्यीकरण आदि कराने का निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिया गया।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीलक्ष्मी वीएस, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे अमरेन्द्र कुमार वर्मा, प्रभागीय वनाधिकारी अरविन्द राज मिश्र, जिला अर्थ एंव संख्याधिकारी शशिकान्त, जिला पंचायत राज अधिकारी अरविन्द कुमार, जिला उद्यान अधिकारी मेवा राम, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग देवपाल, विद्युत, सिचाई एवं अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद अंगद गुप्ता, जिला कार्यक्रम अधिकारी वाणी वर्मा, सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धक रोडवेज हरिशंकर पाण्डेय सहित सभी सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं