समाचारऐसे सचिव जो कार्य करने में लापरवाही बरत रहे उनके खिलाफ नोटिस...

ऐसे सचिव जो कार्य करने में लापरवाही बरत रहे उनके खिलाफ नोटिस जारी करे -डीएम

जिलाधिकारी ने जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन एवं विकास कार्यो की समीक्षा कर प्रगति की ली जानकारी

आई0जी0आर0एस0 व मुख्यमंत्री पोर्टल से प्राप्त शिकायती पत्रो के डिफाल्टर होने पर होगी कार्यवाही

मीरजापुर 18 जून 2024- जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन की अध्यक्षता कलेक्ट्रेट सभागार में जन कल्याणकारी योजनाओं क्रियान्वयन एवं विकास कार्यो की समीक्षा बैठक कर सम्बन्धित विभगाीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विशाल कुमार, मुख्य राजस्व अधिकारी सत्य प्रकाश सिंह सहित सभी उप जिलाधिकारी व जनपदीय अधिकारी उपस्थित रहें। बैठक में जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि ऐसे सचिव जो कार्य करने में लापरवाही बरत रहे उनके खिलाफ नोटिस जारी करते हुये कार्यवाही करेे। उन्होने खण्ड विकास खण्ड सीखड़ के द्वारा जल सरंक्षण का कार्य ठीक ढंग से होने पर कड़ा नाराजगी व्यक्त की गयी तथा निर्देशित करते हुये कहा कि कार्य गुणवत्तापूर्ण कराया जाए इसमें किसी प्रकार लापरवाही बर्दाशत नही की जायेगी। जिलाधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुये कि जिन विद्यालय की बाउंड्रीवाल, पंखा, छत में सीलिंग आदि समस्याएं है तो उन्हे सत्र प्रारम्भ होने पूर्व जून माह के अन्त तक प्रत्येक दशा में ठीक कराना सुनिश्चित कराए। उन्होने कहा कि वित्तीय स्वीकृति के कार्यो को सभी अधिकारी धरातल पर उतारें जिससे योजनाओं का लाभ आम जनमानस को मिल सकें। मनरेगा के तहत नदियों के जीर्णोद्धार के बारे में जानकारी ली गयी बताया गया कि लोंहदी नदी का कार्य प्रगति हैं। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि नदियों के जीर्णोद्धार के साथ ही साथ नदियों व तालाबों के किनारें वृक्षारोपण भी कराए। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि वृक्षारोपण से पूर्व स्थल का चिन्हाकंन कर ले। उन्होने कहा कि वृक्षारोपण के उपरान्त सभी वृक्षो का जियो टैगिंग भी अनिवार्य रूप से सुनिश्चित कराया जाए। उन्होने कहा कि तालाबो का कलस्टर बनाते हुये कितने तालाबों पर कार्य कराया जा रहा है उनकी सूची उपलब्ध कराया जाए तथा ऐसे तालाब जिनमें पानी न हो उन्हें नहरो अथवा सरकारी ट्यूबेलो भरा जाए। गौ आश्रय स्थल की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि समय-समय पर गौ आश्रय स्थलों का निरीक्षण कर वहां पर चारा, पेयजल, आदि पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है जहां पर व्यवस्थाए नही है वहां मुख्य पशु चिकित्साधिकारी द्वारा उपरोक्त व्यवस्थाए उपलब्ध कराना सुनिश्चित कराए। उन्होने कहा कि सभी गौ आश्रय स्थलों में शेड की व्यवस्था अवश्य होनी चाहिए। उन्होने कहा कि जितने भी चारागाह उन्हे गौ आश्रय स्थलो से जोड़े, ताकि पशुओं के लिये पर्याप्त मात्रा में हरा चारा उपलब्ध हो सकें। उन्होने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि खतौनी के अनुसार कितने चारागाह है उसकी एक सूची बनाकर सभी खण्ड विकास अधिकारियों को उपलब्ध करा दे। यह भी कहा कि सभी उप जिलाधिकारी समय-समय पर खण्ड अधिकारियों के मीटिंग कर 25 जून 2024 तक सभी चारागाहो को चिन्हित कर लें। उन्होने सभी खण्ड विकास अधिकरियों को निर्देशित करते हुये कहा कि जिन गांवो में पेयजल की समस्या है वहां पर अधिशासी अभियन्ता जल निगम सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के साथ बैठक कर समस्या का समाधान कराए जिससे ग्रामीणों की समस्याए निजात दिलाया जा सकें। जिलाधिकारी वृद्धा पेंशन, दिव्यांग पेंशन की भी समीक्षा की गयी। उन्होने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि मछुआ समाज के कितने लोग उनकी बनाए एवं मछुवारो के लिये शासन द्वारा चलायी जा रही योजनाओं से उन्हे लाभान्वित किया जाए। उन्होने कहा कि खेल के मैदान, अन्पूर्णा शाॅप, अमृत सरोवर, चारागाह आदि सभी का चिन्हाकंन कर सूची उपलब्ध कराए।
जिलाधिकारी ने समाज कल्याण की समीक्षा के दौरान कहा कि वित्तीय वर्ष के लिये प्राप्त मा0 मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह के लक्ष्य की पूर्ति के लिये आवेदन कराए तथा जुलाई माह में प्रत्येक दशा में प्रत्येक ब्लाको में प्राप्त प्रार्थना पत्रो के सत्यापन के उपरान्त सामूहिक विवाह कार्यक्रम सुनिश्चित कराए। उन्होने अभ्युदय योजना को प्रभावी बनाते हुये कहा कि ब्लाको के सभागार में आनलाअइन माध्यम से कोचिंग की व्यवस्था कराए ताकि दूर दराज ऐसे छात्र जो जनपद मुख्यालय नही पहुंच पा रहे है वे भी उसका लाभ उठा सकें। उन्होेने रेन वाटर हारवेस्टिंग की भी समीक्षा करते हुये कहा कि जिन प्राथमिक विद्यालय में कार्य कराए गए है खण्ड विकास अधिकारी उसका निरीक्षण कर आख्या दे तथा जहां पर आगे के लिये प्रस्तावित है खण्ड विकास अधिकारी व खण्ड शिक्षा अधिकारी संयुक्त हस्ताक्षर से यह प्रमाण पत्र दे कि स्कूल में कार्य कराने हेतु स्थान उपलब्ध हैं।
जनता दर्शन व आई0जी0आर0एस0 में प्राप्त प्रार्थना पत्रो का करें निस्तारण

जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने बैठक में विभिन्न विभागीय अधिकारियों के पास जनता दर्शन, आई0जी0आर0एस0 व मा0 मुख्यमंत्री पोर्टल सहित अन्य माध्यमो से प्राप्त शिकायतो के निस्तारण प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होने कहा कि सभी अधिकारी अपने कार्यालयो में पूर्वान्ह 10 से 12 बजे तक अवश्य बैठे तथा आने वाले फरियादियों की समस्याओ को प्राथमिकता से सुनते हुये उनका संतुष्टिपरक निस्तारण भी कराए। उन्होेने कहा कि जिन-जिन विभाग के प्रार्थना पत्र लम्बित है वे डिफाल्टर होने के पूर्व तत्काल निस्तारण कर अपलोड सुनिश्चित करा दे अन्यथा डिफाल्टर होने की दशा में कार्य की जायेगी। उन्होने उप जिलाधिकारियों व तहसीलदारो को निर्देशित करते हुये कहा कि पैमाइश, धारा-24 व 116 आदि के तहत की जाने वाली पैमाइश को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण एक सप्ताह के अन्दर सुनिश्चित कराए। इस अवसर पर मुख्य कोषाधिकारी अर्चना त्रिपाठी, जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, उपायुक्त एन0आर0एल0एम0 अनय मिश्र, उप जिला मजिस्ट्रेट सौम्या मिश्रा, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी भरत लाल सरोज, नगर मजिस्ट्रेट लाल बहादुर सिंह, सभी खण्ड विकास अधिकारी व खण्ड शिक्षा अधिकारी उपस्थित रहें।

आज ही डाउनलोड करें

विशेष समाचार सामग्री के लिए

Downloads
10,000+

Ratings
4.4 / 5

नवीनतम समाचार

खबरें और भी हैं